Hindi Newsportal

लद्दाख तनाव के दौरान पूरे भारत में ब्लैकआउट कराने की तैयारी में था चीन, जानें कैसे किया था पावर ग्रिड पर साइबर अटैक

Representational Image
0 293

लद्दाख में ड्रैगन से तनातनी के दौरान चीन अपने हैकर्स की मदद से भारत में ब्लैकआउट कराने की फिराक में था। इस बात का खुलासा और दावा अमेरिकी मीडिया न्यूयॉर्क टाइम्स ने एक स्टडी के हवाले से किया है। दरअसल उनका मानना है कि चीनी हैकर्स की फौज ने अक्टूबर में मात्र पांच दिनों के अंदर भारत के पॉवर ग्रिड, आईटी कंपनियों और बैंकिंग सेक्टर्स पर 40500 बार साइबर अटैक किया था। इस स्टडी में कहा गया है कि जून में गलवान घाटी झड़प के चार महीन बाद 12 अक्टूबर को मुंबई में हुए ब्लैकआउट में चीन का हाथ था।

क्या चीनी साइबर अटैक से गई थी देश की आर्थिक राजधानी ‘मुंबई’ की बिजली?

बीते साल मुंबई में ब्लैक आउट भारत के पावर ग्रिड के खिलाफ एक व्यापक चीनी साइबर अभियान के हिस्से के रूप में चलाई जा रहे कैंपन का परिणाम था। दरअसल चीन यह दिखाने की कोशिश में था कि अगर सीमा पर उसके खिलाफ कार्रवाई की गई तो वह भारत के अलग-अलग पावर ग्रिड पर मैलवेयर अटैक कर उन्हें बंद कर देगा। इतना ही नहीं इस स्टडी में यह भी जग ज़ाहिर है कि उन दिनों चीनी मैलवेयर भारत में बिजली की सप्लाई को नियंत्रित करने वाली प्रणालियों में घुस चुके थे। जिसमें हाई वोल्टेज ट्रांसमिशन सबस्टेशन और थर्मल पावर प्लांट भी शामिल थे।

अमेरिकी साइबर सिक्योरिटी कंपनी ‘रिकॉर्डेड फ्यूचर’ का है दावा

बता दे अमेरिका की साइबर सिक्योरिटी कंपनी रिकॉर्डेड फ्यूचर (Recorded Future) की रिपोर्ट में भारत के बिजली सप्लाई लाइन में चीन की घुसपैठ का दावा किया गया है। यह कंपनी सरकारी एजेंसियों के साथ इंटरनेट के उपयोग की स्टडी करती है।

ये भी पढ़े : बिहार सीएम नितीश कुमार ने अपने जन्मदिन पर चुनावी वादा किया पूरा, राज्य में सबको मिलेगी मुफ्त वैक्सीन

पावर ग्रिड और ट्रांसमिशन लाइन में चीनी हैकर्स की घुसपैठ की वजह से बिजली सप्लाई हुई थी बाधित।

रिकॉर्डेड फ्यूचर के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर स्टुअर्ट सोलोमन के मुताबिक – कथित रूप से चीन की सरकारी हैकर्स की रेड इको नाम की फर्म ने गुपचुप तरीके से भारत के एक दर्जन से ज्यादा पावर जनरेशन और ट्रांसमिशन लाइन मे घुसपैठ के लिए अडवांस साइबर हैकिंग के तकनीकों का व्यवस्थित रूप से उपयोग किया था। उस समय ही मुंबई में पावर ग्रिड फेल होने से बिजली सप्लाई बाधित हो गई थी।

12 अक्टूबर को क्या हुआ था मुंबई में?

बता दे 12 अक्टूबर 2020 की सुबह मुंबई में अचानक से बिजली सप्लाई बंद होने से हड़कंप मच गया था। इसी बत्ती गुल की वजह से कोरोना की मार झेल रहे मुंबई के अस्पतालों में वेंटिलेटर्स काम करना बंद कर दिए थे। हालांकि, 2 घंटे के मशक्कत के बाद फिर से पावर सप्लाई को चालू कर दिया गया था।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram