Hindi Newsportal

फैक्ट चेक : क्या मथुरा स्टेशन पर बैग सैनिटाइज करवाने के लिए वसूले जा रहे 10 रूपये ? जानें सच

0 337

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की जा रही है जिसमें दावा किया गया है कि बैग सेनिटेशन के लिए मथुरा रेलवे स्टेशन पर यात्रियों से 10 रुपये लिए जा रहे हैं।

पोस्ट के माध्यम से यह भी कहा जा रहा है कि निजीकरण के कारण ये सुविधाएं इतनी महंगी की जा रही हैं।

फेसबुक पर एक यूजर द्वारा शेयर किये गए पोस्ट में लिखा है कि, “#निजीकरण का फायदा उठाती #प्राइवेट कम्पनियाँ !!मात्र #बैग #सैनेटाइज करने का शुल्क 10 रूपये ?? पेशाब का भी शुल्क जल्द देना होगा। जब नागरिक आपदा मे हो तो सरकार के लिए अवसर बन गया है। ये पहली बार हुआ है। मास्क के चालान की लूट के बाद ये नया तरीका। शाबास @PiyushGoyalOffc @PiyushGoyal”

इस पोस्ट का लिंक आप यहाँ देख सकते है।

ऐसे ही पोस्ट आप यहाँ, यहाँ और यहाँ भी देख सकते है।

फैक्ट चेक

न्यूज़मोबाइल ने इस पोस्ट की जांच की और पाया कि ये भ्रामक है।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक: क्या यूपी के सभी जिलों में 30 दिनों तक चलेगा मास्क चेकिंग अभियान? जानें सच

एक ट्विटर पोस्ट पर कमेंट करते हुए रेलवे के सीनियर डीसीएम, आगरा ने फरवरी 24, 2021 को बताया कि यह सुविधा वैकल्पिक है।

इसके बाद उन्होंने एक नोटिस और एक पोस्टर की तस्वीर भी पोस्ट की। “बैग सैनीटाइज कराना वैकल्पिक व्यवस्था है, जिसके लिए यात्री बाध्य नहीं है. शुल्करु 10 प्रति यात्री”. नोटिस पर लिखा है।

पोस्टर पर ‘कोरोना किलर’ और ‘वैकल्पिक स्वेच्छानुसार’ भी लिखा हुआ है।

नॉर्थ सेंट्रल रेलवे ने अगस्त 29, 2020 को ट्वीट करके अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दी थी कि 29 अगस्त 2020 को कोविड-19 महामारी को देखते हुए आगरा कैंट स्टेशन और मथुरा जंक्शन रेलवे स्टेशन पर यात्रियों का सामान सैनिटाइज करने और उस पर कवर चढ़ाने की सुविधा शुरू की गई थी।

इतनी जानकारी से हम दावा कर सकते है कि सोशल मीडिया पर बैग सेनिटेशन के लिए मथुरा रेलवे स्टेशन पर यात्रियों से 10 रुपये लिए जाने वाला दावा भ्रामक है क्योंकि यह सुविधा वैकल्पिक है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 11 7127 9799 पर व्हाट्सएप करें