Hindi Newsportal

जाने कौन है वो फर्जी IAS, जिसने फर्जी खबर फैलाकर झारखण्ड के सीएम हेमंत सोरेन से लिया सम्मान

0 118

जाने कौन है वो फर्जी IAS, जिसने फर्जी खबर फैलाकर झारखण्ड के सीएम हेमंत सोरेन से लिया सम्मान

 

झारखण्ड की राजधानी रांची से बड़ा ही विचित्र मामला सामने आया है। झारखंड में इन दिनों सौरभ पांडे नामक युवक की खूब चर्चा है। दरअसल, सौरभ पांडे फर्जी आईएएस बनकर प्रदेश के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मिलने तक जा पहुंचा। यहीं नहीं सौरभ पांडे ने उतर प्रदेश के कुमार सौरभ को यूपीएससी में मिली 357वीं रैंक को अपनी रैंक बताकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के हाथों सम्मान लिया और सीएम के साथ खाना भी खाया। बता दें यह मामला 26 जुलाई 2022 का है।

लेकिन जब इस बात की जानकारी उत्तर पदेश के रहने वाले कुमार सौरभ को लगी कि उनकी नाम का एक व्यक्ति उनकी ही रैंक बताकर सीएम सोरेन के साथ खाना खा रहा है तथा फोटो खिंचवा रहा है तो इस पूरे मामले के सामने आने में देर नहीं लगी। उत्तर प्रदेश के कुमार सौरभ को इस बात का पता चलने के बाद ही उन्होंने ने पलामू जिले के रहने वाले सौरव पांडेय को एक्सपोस किया। इस फर्जीवाड़े को लेकर सौरव के खिलाफ पांडू थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।.

पलामू के उपायुक्त आंजनेयुल दोड्ढे के निर्देश पर पांडु बीडीओ राहुल उरांव ने पांडु सौरभ पांडेय के खिलाफ थाने में केस दर्ज कराया है. उधर, रांची के धुर्वा थाने में भी राज्य के उच्च व तकनीकी शिक्षा विभाग के एमआईएस पदाधिकारी कुमार चंदन ने एफआईआर किया है. बता दें, पलामू के पांडू प्रखंड का रहने वाले सौरभ पांडेय भी यूपीएससी की तैयारी कर रहा था, लेकिन वह सफल नहीं हो पाया. गत 30 मई को रिजल्ट आया तो उसने खुद के सफल होने की खबर फैला दी। उसने यूपीएससी मुख्यालय के पास सूट टाई वाली अपनी फोटो भी कई जगहों पर शेयर कर दी थी।