Hindi Newsportal

स्मृति ईरानी के करीबी सहयोगी सुरेंद्र सिंह की अमेठी में गोली मार कर हत्या

0 444

बरौलिया गांव के पूर्व ग्राम प्रधान और भाजपा नेता स्मृति ईरानी के करीबी सुरेंद्र सिंह की रविवार तड़के उनके आवास पर अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी.

गोली लगने पर उनकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया था. लखनऊ ले जाते वक्त सुरेंद्र सिंह ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया था.

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि जब पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह अपने घर के बाहर सो रहे थे तब बदमाशों ने इस घटना को अंजाम दिया. घटना की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामला दर्ज कर इसकी पड़ताल शुरू कर दी है.

सुरेंद्र सिंह के बेटे ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “मेरे पिता स्मृति ईरानी के करीबी सहयोगी थे और 24 घंटे उनके लिए प्रचार करते थे. उनके सांसद बनने के बाद निकाली गयी विजय यात्रा में भी वे शामिल थे. मुझे लगता है कि कुछ कांग्रेस समर्थकों को यह पसंद नहीं आया. हमे कुछ लोगों पर संदेह है.”

अमेठी के एसपी ने कहा, “उन्हें लगभग 3 बजे गोली मार दी गई थी. हमने कुछ संदिग्धों को हिरासत में लिया है. यह किसी पुराने विवाद या राजनीतिक विवाद के कारण हो सकता है.”

ALSO READ: नरेंद्र मोदी 30 मई को ले सकते हैं प्रधानमंत्री पद की शपथ

स्थानीय लोगों का दावा है कि सुरेंद्र सिंह ईरानी के करीबी माने जाते थे और वह फुटवियर के वितरण में शामिल थे, जिसके कारण कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने स्मृति ईरानी पर राहुल गांधी का अपमान करने के लिए निवासियों को जूते बांटने का आरोप लगाया था.

स्मृति ईरानी ने शुक्रवार को अमेठी संसदीय सीट पर कुल 4,67,598 वोटों से जीत हासिल की, और कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी को 55,120 वोटों के अंतर से पछाड़ दिया था.