Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: क्या प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति मुर्मू का स्वागत करने से किया इनकार? नहीं वाइरल हो रहा दावा झूठा है

0 2,334

सोशल मीडिया पे एक फोटो सेशन के दौरान हाथ जोड़े हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की एक वायरल तस्वीर वाइरल हो रही है। इसे शेयर करते हुए लोगों ने दावा किया  कि तीनों ने प्रधानमंत्री मोदी का नमस्ते कर स्वागत किया, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने उनलोगों को जवाब तक नहीं दिया।

एक फेसबुक यूजर ने इसे शेयर करते हुए लिखा, “क्या अब इन पदों की कोई गरिमा बची है? जवाब दीजिए।” 

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें

इसे फेसबुक और ट्विटर पर काफी शेयर किया गया।

फैक्ट चेक

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल दावा गलत है। वाइरल तस्वीर को गलत संदर्भ में पेश किया गया है।

वायरल तस्वीर के साथ शेयर हो रहे दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। सबसे पहले हमने गूगल पर वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शरू किया। खोज के दौरान हमें तस्वीर से मिलती जुलती क्लिप प्रधानमंत्री मोदी के आधिकारिक यूट्यूब  हैन्डल पे मिली। टाइटल में लिखा था, “लाइव: पीएम मोदी ने संसद भवन में बाबासाहेब अंबेडकर की पुण्य तिथि पर उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की।”

इवेंट का लाइव प्रसारण देखने पर हम 9.40 मिनट के टाइमस्टैम्प से सीक्वेंस देख सकते हैं। पीएम मोदी पहले नमस्ते करते हैं जिसके बाद राष्ट्रपति मुर्मू, उपराष्ट्रपति धनखड़ और लोकसभा अध्यक्ष बिड़ला भी हाथ जोड़ते हैं, और वे सभी कैमरामैन की ओर देखते हैं। हम वहां मौजूद फोटोग्राफरों और कैमरापर्सन को भी देख सकते हैं, जिनकी ओर इशारा करते हुए चारों नेता देख रहे हैं। वीडियो के स्क्रीनशॉट को नीचे देखा जा सकता है।

घटनाओं के इस पूरे क्रम को नीचे दी गई लाइव स्ट्रीम में 9.40  सेकंड से 9.42 सेकंड तक देखा जा सकता है।

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमें पता चला कि कि वायरल तस्वीर उस क्षण से पहले की है जब राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और अन्य लोगों के साथ फोटो खिंचवाने के बाद पीएम मोदी ने अपने हाथ नीचे कर आगे जाने के लिए मुड़े थे। वाइरल हो रहा दावा गलत है।