Hindi Newsportal

फैक्ट चेक : क्या दुबई की मस्जिद में ये महिलाएं गा रही है ‘राम भजन’ ? जानें सच

0 237

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया गया है कि दुबई में महिलाएं एक मस्जिद में ‘राम भजन’ गा रही थीं।

फेसबुक पर एक पोस्ट में कैप्शन दिया गया है – “मोदी है तो मुमकिन है, जय श्री राम दुबई में मुस्लिम ओरतो ने नई पहल करते हुए मस्ज़िद में राम भजन प्रस्तुत किया और उनके शेख पतियों ने ताली बजाकर लय बद्ध उनका साथ दिया, हिन्दुस्तान में होता तो इस्लाम खतरे में आ जाता। शेयर किजिये और 125 करोड लोगो तक पहुचाये।”

अंग्रेजी में ट्रांसलेशन – (Translation: If Modi is there then it is possible, Jai Shri Ram, Muslim women in Dubai performed Ram Bhajan in the mosque while taking a new initiative and their Sheikh husbands clapped and supported them. If it was in India, Islam would have been in danger. Share and reach 125 crore people)

यहाँ उपरोक्त पोस्ट का लिंक दिया गया है। ऐसे ही और पोस्ट का लिंक आप यहां, यहां और यहां देख सकते है।

फैक्ट चेक :

न्यूज़ मोबाइल ने इस पोस्ट की जाँच की और इस दावे को झूठा पाया।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक : क्या भारत के पहले पांच शिक्षा मंत्री थे एक ही समुदाय से ? जानें सच

हमने वीडियो के कीफ़्रेम निकाले और उन्हें कुछ कीवर्ड के साथ रिवर्स इमेज सर्च के माध्यम से चलाया और पाया कि उसी वीडियो को 2012 में ​​श्री सत्य साई ऑफिशियल चैनल द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किया गया था।

वीडियो के डिस्क्रिप्शन में लिखा है – साईं संगठन के क्षेत्र 94 द्वारा “प्रशांति” तीर्थयात्रा में मध्य पूर्व और खाड़ी के देशों के शामिल होने के बाद प्रशांति निलयम इस्लामिक रंग में रंग गया। बहरीन, ईरान, कुवैत, ओमान, कतर, सऊदी अरब, सीरिया, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात के भक्तों ने प्रशांति निलयम में एक अरबी स्वाद ही ला दिया।

इसके आधार पर, हमने एक और खोज की और पाया कि प्रशांति निलयम आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले के पुट्टपर्थी में स्थित सत्य साईं बाबा का मुख्य आश्रम है।

हमें श्री सत्य साई ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर आश्रम का एक वर्चुअल टूर वीडियो भी मिला।

श्री सत्य साई बाबा के आधिकारिक फेसबुक पेज पर, हमें साई कुलवंत हॉल की तस्वीरें भी मिलीं।

ऊपर की तस्वीर और वायरल वीडियो के एक स्क्रेंगब यानी स्क्रीन शॉट की एक साथ तुलना करने पर हमे ये यह स्पष्ट हो गया की वायरल वीडियो और इस तस्वीर में जो जगह है वो एक ही जगह की है।

इसलिए, उपरोक्त जानकारी से, यह स्पष्ट है कि यह एक पुराना वीडियो है जिसे भारत में आंध्र प्रदेश में फिल्माया गया था न कि दुबई में जैसा कि वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 11 7127 9799 पर व्हाट्सएप करें