Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: क्या इस तस्वीर में अपनी माँ को खोने के बाद सीरिया से जॉर्डन जा रहा हैं ये बच्चा? जानें सच

0 245

भावुक कर देने वाली एक तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ वायरल हो रही है कि एक 4 साल का बच्चा सीरिया से जॉर्डन की ओर जा रहा है और उसके हाथ में जो थैली है उसमे उसकी माँ और बहन के कपड़े है जो सीरिया में मारे गए है।

तस्वीर में आप देख सकते है कि एक छोटा बच्चा प्लास्टिक का थैला लिये एक रेगिस्तान में चलता हुआ दिख रहा है।

फेसबुक में शेयर किये जा रहे वायरल पोस्ट में लिखा है – ये तस्वीर 2014 की है। सीरिया के 4 साल के बच्चे की दिल दहला देने वाली तस्वीर जो लोगों के साथ सीरिया छोड़ कर जॉर्डन जा रहा है और उसके थैले में बस एक ही चीज़ है, उसकी माँ और बहन के कपडे है जो सीरिया में मारे गए है।

उपरोक्त पोस्ट का लिंक आप यहाँ देख सकते है।

इसी तरह के पोस्ट आप यहाँ भी देख सकते है।

फैक्ट चेक :

जब न्यूज़मोबाइल ने इस पोस्ट की जांच की, तो हमें पता चला की ये पोस्ट भ्रामक है।

फैक्ट चेक : ICMR ने कोरोना से बचने के लिए नहीं जारी की ये गाइडलाइन्स।

तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च के माध्यम से सर्च करने पर, हमने पाया कि तस्वीर को संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों द्वारा ट्वीट किया गया था, कैप्शन के साथ लिखा था, “यह 4 वर्षीय मारवान है, जो अस्थायी रूप से अपने परिवार से अलग हो गया था। इसे जॉर्डन पार करने के लिए UNHCR कर्मचारियों द्वारा सहायता प्रदान की गई है” ।

संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारी, एंड्रयू हार्पर ने स्पष्ट किया कि मारवान अराजकता में अपने परिवार से अस्थायी रूप से अलग हो गया था। उन्होंने एक और तस्वीर भी साझा की, जिसमें और वो शरणार्थियों के साथ जा रहा था।

बाद में हार्पर ने यह भी ट्वीट किया कि मारवान जल्द ही अपनी मां के साथ वापस मिल गया था। जिससे ये भी स्थापित होता है की उसकी माँ की मृत्यु नहीं हुई थी और उसके हाथ में जो थैली थी उसमे उसकी माँ और बहन के कपड़े नहीं थे।

बता दे सीरिया में लंबे समय से चल रहे गृह युद्ध के कारण लाखों लोगों ने सीरिया से पलायन किया था। इतना ही नहीं BBC ने संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के हवाले से कहा की वर्ष 2013 में सीरिया, रूस और अफ़ग़ानिस्तान उन देशों में शामिल रहे, जहां से सबसे ज़्यादा लोगों ने शरण लेने के लिए दूसरे देशों की ओर पलायन किया।

इसीलिए हम दावा कर सकते है की सोशल मीडिया पर वायरल ये दावा भ्रामक है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 11 7127 9799 पर व्हाट्सएप करें