Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: क्या RSS के पूर्व सरकार्यवाह सुरेश जोशी ने दिया संविधान बदलने को लेकर ये बयान? जानें सच

0 2,102

सोशल मीडिया पर राष्ट्र स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पूर्व सरकार्यवाह सुरेश भैय्याजी जोशी के नाम पर एक बयान वायरल किया जा रहा है। बयान में उन्होंने कथित तौर पर कहा है कि – भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने के लिए वर्ण व्यवस्था को लागू करना और संविधान को बदलना हमारा उद्देश्य है!”

सोशल मीडिया पर एक यूज़र ने एक पोस्ट साझा करते हुए लिखा – SC / ST / OBC अगर तुम हिन्दू बने रहे तो शुर्द्र बना दिए जाओगे – बेहतर है इन्हे अपनी काल्पनिकता में खुश रहने दो – अपने लिए एक विकसित राह चुनो। 

इस पोस्ट के लिंक को आप यहाँ देख सकते है।

ऐसे ही कुछ पोस्ट आप यहाँ और यहाँ भी लिख सकते है।

फैक्ट चेक :

न्यूज़मोबाइल ने इस पोस्ट की जांच की और इसे फेक पाया।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक: क्या ICICI, एचडीएफसी और एक्सिस बैंक का कांग्रेस ने किया था निजीकरण? जानें सच

इस दावे की जांच करते वक़्त हमने सबसे पहले ऐसे किसी विवादित बयान की ख़बर गूगल सर्च किया, लेकिन हमें आरएसएस के पूर्व सरकार्यवाह सुरेश जोशी से जुड़ा ऐसी कोई ख़बर नहीं मिली, जो उनके नाम से वायरल किये जा रहे इस बयान को सही साबित कर सके।

आगे जांच करने पर हमे ये भी पता चला कि आरएसएस के नए सरकार्यवाह यानि (General Secretary) पद पर सुरेश भैयाजी जोशी की जगह दत्तात्रेय होसबोले (Dattatreya Hosabale) को सर्वसम्मति से चुना गया है और ये बदलाव 20 मार्च 2021 को ही हुआ है, जिस तारिख के नाम से ये फ़र्ज़ी दावा वायरल हो रहा है।

बता दे बेंगलुरु में 19 मार्च से अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक शुरू हुई थी, जिसके दूसरे दिन यानी शनिवार (20 मार्च 2021) को सरकार्यवाह पद पर चयन हुआ था। इस बैठक के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) में 12 साल बाद बड़ा परिवर्तन हुआ था। दरअसल आरएसएस के नए सरकार्यवाह यानि (General Secretary) पद पर दत्तात्रेय होसबोले (Dattatreya Hosabale) का सर्वसम्मति से चयन किया गया था।

जानने वाली बात ये है कि दत्तात्रेय होसबोले ने पिछले 12 वर्ष से लगातार इस पद पर काम कर रहे सुरेश भैयाजी जोशी का स्थान लिया है। सुरेश भैयाजी जोशी साल 2009 से लगातार सरकार्यवाह की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।

यही जानकारी हमे कई मीडिया रिपोर्ट्स में भी मिली, जिनको आप यहाँ और यहाँ देख सकते है।

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में किये जा रहे दावे का सच जानने और इस बात कि पुख्ता जानकारी निकालने कि क्या सुरेश भैय्याजी ने ऐसा बयान दिया है, हमने आरएसएस के संघ प्रचार प्रमुख से संपर्क किया।

तब नरेंद्र कुमार श्रीवास्तव जो प्रयागराज विभाग के कुटुंब प्रबोधन प्रमुख है, उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर राष्ट्र स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पूर्व सरकार्यवाह सुरेश भैय्याजी जोशी के नाम पर जो बयान वायरल हो रहा है वो गलत है। उनका कहना है कि सुरेश भैय्याजी जोशी ने संविधान बदलने को लेकर ऐसा कोई भी बयान नहीं दिया है।

इसीलिए, इतनी जानकारी से हम दावा कर सकते है कि वायरल पोस्ट फेक है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 11 7127 9799 पर व्हाट्सएप करें