Hindi Newsportal

अरुण जेटली ने पीएम से नए मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का किया आग्रह, स्वास्थय कारणों का दिया हवाला

0 387

स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए, निवर्तमान वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर सूचित किया कि वह गुरुवार (30 मई) को शपथ लेने वाले नए मंत्रिमंडल से बाहर होना चाहते हैं.

अपने पत्र में, केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने पीएम मोदी से कहा कि उन्हें नई सरकार में वर्तमान के लिए, किसी भी जिम्मेदारी का हिस्सा ना बनने की अनुमति दें.

जेटली ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र ट्विटर पर साझा भी किया.

जेटली, जिनका स्वास्थ्य बीमारी के कारण खराब चल रहा है, ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि उन्हें उनके स्वास्थय में सुधार के लिए उचित समय दिया जाना चाहिए और इसीलिए नए मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया जाना चाहिए.

ALSO READ: शीला दीक्षित प्रदर्शन कर राहुल से करेंगी इस्तीफा नहीं देने का आग्रह

इसके साथ ही उन्होंने पत्र में देश को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नयी दिशा में ले जाने की बात कही. उन्होंने कहा ‘पार्टी में रहते हुए मुझे संगठन स्तर पर बड़ी जिम्मेदारी दी गई, एनडीए की पहली सरकार में मंत्री पद और विपक्ष में रहते हुए भी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाने का मौका मिला। मैं इससे ज्यादा की कुछ और मांग भी नहीं कर सकता.’

जेटली पिछले कुछ महीनों से बीमार हैं और इस साल फरवरी में वह अमेरिका से लौटे थे, जहां वह चिकित्सा के लिए गए थे. मोदी सरकार का आखिरी वित्तीय बजट भी वे अपनी बीमारी के चलते पेश नहीं कर पाए थे और उनके कार्यालय का भार रेल मंत्री पियूष गोयल को सौंपा गया था.