Hindi Newsportal

Republic Day 2022: देश मना रहा 73वां गणतंत्र दिवस

File Image
0 2,533

देश आज 73वां गणतंत्र दिवस समारोह मना रहा है. आज ही के दिन 1950 में देश में संविधान लागू हुआ था और इसके साथ ही भारत एक संप्रभु राज्य यानी गणतंत्र बन गया था. इस मौके पर आयोजित राष्ट्रीय कार्यक्रम को इस बार कोविड की वजह से 90 मिनट तक सीमित किया गया है. राजपथ पर होने वाली परेड भी आधा घंटा की देरी से 10.30 बजे शुरू होगी और 12 बजे तक चलेगी.

गणतंत्र दिवस समारोह में कब-कब क्या-क्या होगा?

09.50 बजे: नेशनल वॉर मेमोरियल पर तीनों सेना के प्रमुख देंगे श्रद्धांजलि

10.00 बजे: प्रधानमंत्री द्वारा नेशनल वॉर मेमोरियल पर शहीद जवानों की श्रद्धांजलि

10.15 बजे: प्रधानमंत्री का सलामी मंच के पास आना

10.24 बजे: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का आगमन.

कोरोना से संक्रमित होने की वजह से उप राष्ट्रपति वेकैंया नायडू परेड में शामिल नहीं होंगे. राष्ट्रपति के आने से पहले 46 सजीले घुड़सवार अंगरक्षक आते हैं. प्रसिडेंट बॉर्डीगार्ड का गठन 1773 में हुआ था.

10.25 बजे: राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराना और राष्ट्र गान, उसके बाद 21 तोपों की सलामी

10.26 बजे: जम्मू कश्मीर पुलिस के एएसआई (सहायक उप निरीक्षक) बाबू राम को मरणोपरांत अशोक चक्र सम्मान. बाबू राम की पत्नी रीता रानी शांति काल के इस सर्वोच्च वीरता पुरस्कार को ग्रहण करेंगी. पूंछ के रहने वाले बाबू राम ने 29 अगस्त 2020 को श्रीनगर के पंथा चौक पर आतंकी हमले में घिरे पहले लोगों को उनके घरों से सुरक्षित निकाला, फिर अपने साथी को बचाया था और तीन आतंकियों को मार गिराया था. इस दौरान वे शहीद हो गए.

10.28 बजे: सेना के चार एमआई-17 और एक वी-5 हेलीकॉप्टर तिरंगे के साथ तीनों सेनाओं के झंडों के साथ आसमान से राजपथ पर फूल बरसाएंगे.

10.29 बजे: परेड कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार मिश्रा की अगुवाई में परेड शुरू.

10.30 बजे: परेड उप कमांडर मेजर जनरल आलोक कक्कर उनका साथ देंगे.

10.31 बजे: परमवीर चक्र और अशोक चक्र विजेताओं का सम्मान. परमवीर चक्र लड़ाई के दौरान देश का सर्वोच्च सैनिक सम्मान है, जबकि अशोक चक्र शांति काल के दौरान दिया जाने वाला देश का सर्वोच्च सम्मान है.

10.32 बजे: परमवीर चक्र विजेता सुबेदार मेजर योगेन्द्र सिंह यादव ( रिटायर्ड) और सुबेदार संजय कुमार का सम्मान.