Hindi Newsportal

LAC पर फायरिंग को लेकर आया भारतीय सेना का बयान कहा – चीन ने की फायरिंग, हमने बरता संयम

0 323

लद्दाख सीमा पर चीन अपनी चालबाजियों और साजिशों से बिलकुल पीछे नहीं हट रहा है। बीते दिन चीनी सेना की वेस्टर्न कमांड ने आरोप लगाया था कि भारतीय सेना ने गश्त कर रही चीनी सैनिकों की टुकड़ी पर फायरिंग की है. जिसके जवाब में चीनी सेना को जवाबी कार्रवाई करनी पड़ी।

अब LAC पर फायरिंग को लेकर आया भारतीय सेना का बयान।

भारतीय सेना ने आज अपना आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा कि एलएसी पर भारत तनाव कम करने के लिए प्रतिबद्ध है. इधर चीन आगे बढ़ने के लिए उत्तेजक गतिविधियां कर रहा है.

 

बीजिंग की ओर से लगाए जा रहे आरोपों पर भारतीय सेना ने कहा कि किसी भी स्तर पर भारतीय सेना ने एलएसी पार नहीं किया और फायरिंग सहित किसी भी आक्रामकता का इस्तेमाल नहीं किया. चीनी सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) सैन्य और राजनयिक पर बातचीत के बीच समझौते का उल्लंघन कर रहा है और आक्रमक युद्धाभ्यास कर रहा है.

चीनी सेना की वेस्टर्न कमांड ने क्या लगाया था आरोप?

वेस्टर्न कमांड के प्रवक्ता ने अपने बयान में कहा, ”गॉड पाउ माउंटेन इलाके में भारतीय सेना ने घुसपैठ की. कार्रवाई के दौरान भारतीय सेना ने गोलीबारी से धमकाया. चीनी सैनिकों को स्थिति सामान्य करने के लिए जवाबी कार्रवाई करने के लिए मजबूर होना पड़ा. भारत के इस कदम ने भारत औऱ चीन के बीच समझौतों को तोड़ा है, जिससे क्षेत्क में तनाव बढ़ गया और गलतफहमी की गुंजाइश बढ़ गई है.

45 साल में पहली बार एलएसी पर फायरिंग की घटना हुई

बता दे चीन की हरकतों के कारण एलएसी पर 45 साल में पहली बार फायरिंग की घटना हुई है. आखिरी बार एलएसी पर फायरिंग 1975 में अरुणाचल प्रदेश में हुई थी. आखिरी बार फायरिंग में भी चीन ने भारतीय सेना की टुकड़ी को निशाना बनाया था. जिसमें भारतीय जवान हताहत हुए थे.

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram