Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: एक ही फ्रेम में दिख रहे यातायात के सभी माध्यमों की यह तस्वीर बनारस की नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश की है, जानिए पूरा सच

0 309

फैक्ट चेक: एक ही फ्रेम में दिख रहे यातायात के सभी माध्यमों की यह तस्वीर बनारस की नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश की है, जानिए पूरा सच

 

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है। इस तस्वीर में यातायात के सभी माध्यम एक ही फ्रेम में दिख रहे हैं। तस्वीर में रेल, रोड, जल मार्ग और हवाई यात्रा जैसे सभी यातायात के माध्यमों को देखा जा सकता है। इसी तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर कर बनारस का बताया जा रहा है।

तस्वीर को फेसबुक पर शेयर कर हिंदी भाषा के कैप्शन में लिखा गया है कि,”एक ही फोटो फ्रेम में ट्रांसपोर्ट के सभी माध्यम, तस्वीर बनारस की है”

 

फेसबुक का लिंक यहाँ देखें

 

फैक्ट चेक:

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमे पता चला वायरल तस्वीर बनारस की नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश की है  

 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर के साथ शेयर हो रहे दावे को पढ़ने पर हमें इसके भ्रामक होने की आशंका हुई, जिसके बाद हमने अपनी पड़ताल आरम्भ की। पड़ताल के दौरान हमने सबसे पहले वायरल तस्वीर को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज में हमें सबसे पहले वायरल तस्वीर फेसबुक के पोस्ट में मिली, जहां इसे आंध्र प्रदेश का बताया जा रहा है।

 

उपरोक्त प्राप्त तथ्य की पुष्टि के लिए हमने गूगल पर एक बार और बारीकी से संबंधित कीवर्ड्स के माध्यम खोजना शुरू किया। जिसके बाद हमें वायरल तस्वीर Our Rajamahendravaram  नामक फेसबुक पेज के एक पोस्ट में मिली, जहां इसे आंध्र प्रदेश के राजमुंद्री का बताया जा रहा है। इस पोस्ट में तस्वीर खींचने वाली का नाम भी बताया है। तस्वीर में इसे Aurobindo_sf का बताया है।

इसके साथ ही यह तस्वीर हमें Aurobindo_sf के इंस्टा पर भी मिली। जहां इसे अक्टूबर 30, 2021 को अपलोड किया गया था। पोस्ट में कैप्शन के साथ जानकारी दी गयी है कि यह राजमुंद्री के गोदावरी नदी की है। राजामुंदरी में आंध्र प्रदेश है।

 

पड़ताल के दौरान हमने गूगल पर मिले तथ्यों से पता चला कि वायरल तस्वीर बनारस की नहीं बल्कि आंध्र प्रदेश के राजमुंद्री में गोदावरी नदी की है।