Hindi Newsportal

अब मंडरा रहा ‘गुलाब’ का खतरा: चक्रवाती तूफान की आशंका से ओडिशा, आंध्र प्रदेश में हाईअलर्ट, बंगाल में छुट्टियां रद्द

0 429

यास के छह माह बाद बंगाल की खाड़ी में ‘गुलाब’ उठ रहा है। यह चक्रवाती तूफान का रूप लेकर ओडिशा, आंध्रप्रदेश व बंगाल में कहर ढा सकता है। फिलहाल यह तूफान गहरे दबाव के रूप में है। इसी क्रम में इससे खतरे को देखते हुए ओडिशा के सात जिलों में हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है तो बंगाल में भारी वर्षा की आशंका को देखते हुए समस्त सरकारी कर्मचारियों की पांच अक्तूबर तक छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।

क्या कहना है मौसम विभाग का ?

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव का क्षेत्र शनिवार देर शाम तक चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा। यह चक्रवाती तूफान दक्षिण ओडिशा और उत्तर आंध्र प्रदेश के तट से टकरा सकता है। इसका सबसे अधिक प्रभाव ओडिशा के गोपालपुर से आंध्र प्रदेश के विशाखापटनम के बीच होगा। बंगाल में भारी वर्षा हो सकती है।

कैबिनेट सचिव ने बुलाई बैठक, बचाव की तैयारियों की समीक्षा।

तूफान के खतरे को देखते हुए शनिवार को कैबिनेट सचिव राजीव गाबा की अध्यक्षता में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कमेटी की बैठक हुई। इसमें केंद्र व राज्य सरकारी मशीनरियों की बचाव की तैयारियों की समीक्षा की गई। बैठक में ओडिशा व आंध्रप्रदेश के मुख्य सचिवों ने लोगों को बचाने के लिए उपाय किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी।

यह भी पढ़े: PM Modi at UNGA: पीएम मोदी का संबोधन खत्म, आतंकवाद, कोरोना और अफगानिस्तान सहित इन मुद्दों पर रखी बात

एनडीआरएफ मुस्तैद।

एनडीआरएफ ने इन राज्यों में 18 टीमें तैनात की हैं। अतिरिक्त टीमों को भी तैयार रखा गया है। सेना, नौसेना की राहत व बचाव टीमों को जहाजों व विमानों के साथ तैनात किया गया है। कैबिनेट सचिव गाबा ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार की एजेंसियों को सारे ऐहतियाती व सुरक्षा उपाय तूफान के तट से टकराने से पहले कर लेना चाहिए, ताकि नुकसान बिलकुल न हो और बुनियादी ढांचे को भी कम से कम क्षति पहुंचे।

यहाँ हाई अलर्ट।

ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त पीके जेना के मुताबिक राज्य के सात जिलों में शनिवार को हाईअलर्ट जारी कर दिया गया। तूफान की आशंका वाले क्षेत्रों में राहत टीमों को भेज दिया गया है, ताकि निचले इलाकों से लोगों को निकाला जा सके। ओडीआरएफ की 42 और एनडीआरएफ की 42 टीमें तैनात कर दी गई हैं। राज्य के सात जिलों- गजपति, गंजाम, रायगढ़, कोरापुट, मलकानगिरि, नबरंगपुर व कंधमाल में तूफान को लेकर हाईअर्लट किया गया है।

बंगाल में भारी वर्षा की आशंका।

उधर, बंगाल में ‘गुलाब’ के असर से भारी वर्षा की आशंका जताई गई है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने सभी सरकारी कर्मचारियों की छुट्टियां पांच अक्तूबर तक तत्काल प्रभाव से निरस्त कर दी हैं।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram