Hindi Newsportal

Australia vs India, 4th Test : गाबा में पहली जीत के साथ भारत ने जीती टेस्ट सीरीज, ऑस्ट्रेलिया का 32 साल का रिकॉर्ड तोड़ने के साथ बनाये ये नए रिकॉर्ड

0 316

ब्रिस्बेन में खेले गए बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के चौथे और अंतिम टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हरा कर इस ऐतिहासिक जीत को अपने नाम कर लिया है। बता दे ये लगातार दूसरा मौका है जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उन्‍हीं की धरती पर हराया है। वही इस जीत के साथ ही भारत ने गाबा में अपने हार के सिलसिले को भी खत्‍म कर दिया है।

बता दे ऑस्‍ट्रेलिया ने भारत के सामने जीत के लिए 328 रनों का लक्ष्‍य रखा था, जिसके जवाब में भारत ने शुभमन गिल, ऋषभ पंत, चेतेश्‍वर पुजारा की अर्धशतकीय पारी के दम पर सात विकेट गंवाकर आसानी से मुकाबला जीत लिया। । इस मैच में ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे जिसके बाद भारत की पहली पारी 336 रन पर ही ऑल आउट हो गई थी। दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाजों ने मेजबान को 294 रन पर समेट दिया था। जिसके बाद भारत ने 7 विकेट पर 329 रन बनाकर मुकाबला और सीरीज अपने नाम कर ली।

32 साल बाद ऑस्ट्रेलिया ने देखी है हार।

भारत के लिए ये जीत इसीलिए भी ऐतिहासिक है क्युकीं ऑस्‍ट्रेलिया ने अपनी धरती पर गाबा में आखिरी बार साल 1989 में हार का मुंह देखा था। इसके बाद से ही कंगारू टीम को यहां कभी कोई हरा नहीं पाया था यानी ऑस्ट्रेलिया की टीम यहाँ अजय थी। ऑस्ट्रेलिया ने यहाँ 31 मुकाबलों में जीत दर्ज की है।

कैसा रहा मैच।

इस मैच में भारत की ओर से ऋषभ पंत ने कमाल करते हुए 89 रन की पारी खेली। इतना ही नहीं भारत की इस ऐतिहासिक जीत में पंत और शुबमन गिल हीरो साबित हुए। गिल ने जहां 91 रन बनाए तो वहीं पंत ने तेजी से रन बनाकर भारत को गाबा के मैदान पर पहली जीत दिलाई। बता दे 4 टेस्ट मैचों की सीरीज को भारत ने 2-1 से जीतने में सफलता पाई।

पांचवें दिन भारत ने बनाए 325 रन।

गाबा टेस्ट जीतने के लिए भारत ने पांचवें दिन 325 रन बनाए है। ख़ास बात ये है कि टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में जीत के लिए पांचवें दिन भारत ने इससे पहले कभी इतने रन नहीं बनाए थे। साथ ही भारत जीत के लिए पांचवें दिन सबसे ज्यादा रन बनाने वाला दुनिया का तीसरा देश बन गया है। इससे पहले 1984 में वेस्टइंडीज ने लॉर्ड्स में 344 और 1948 में ऑस्ट्रेलिया ने लीड्स में जीत के लिए पांचवें दिन 404 रन बनाए थे।

BCCI ने दिया 5 करोड़ का बोनस।

ऑस्ट्रेलिया में मिली जीत से टीम इंडिया पर पैसों की बारिश होना शुरू हो गई है। BCCI ने 5 करोड़ का बोनस देने का ऐलान किया है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टीम के बेजोड़ प्रदर्शन की सराहना करते हुए उसके लिए पांच करोड़ रुपये के बोनस की घोषणा की है।

ये भी पढ़े : Farmers’ Protest LIVE: सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त समिति की बैठक जारी, 10वें दौर की वार्ता कल

पीएम मोदी ने भी दी शुभकामनाये।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन टेस्ट में मिली शानदार जीत के लिए बधाई दी। पीएम मोदी ने टीम इंडिया को सोशल मीडिया पर बधाई देते हुए लिखा, ‘हम सब ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की जीत से बेहद उस्ताहित हैं। टीम के खिलाड़ियों में जबरदस्त जोश और उत्साह पूरे मैच के दौरान दिखा. उनका दृढ़ इरादा, धैर्य और दृढ़ संकल्प देखने लायक था. टीम को बधाई! आपके भविष्य के के लिए शुभकामनाएं।’

आइये जानें कि इस मैच में कौन-कौन से बड़े रिकॉर्ड्स बने।

  • गाबा के मैदान पर भारत की यह पहली टेस्ट जीत है। इसके साथ ही भारत गाबा और वाका में टेस्ट जीतने वाला एशिया का पहला देश बन गया है।
  • भारत ने 328 रनों के लक्ष्य को हासिल कर गाबा में सबसे ज्यादा रनों को सफलतापूर्वक चेज करने का रिकॉर्ड बना दिया है।
  • इस मैच में पुजारा ने भी पंत के अलावा 56 रन की जुझारू पारी खेली है।

  • टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में भारत का यह यह तीसरा सबसे बड़ा रन चेस करते हुए जीत है।
  • ब्रिसबेन के मैदान पर किसी भी टीम ने इतना बड़ा लक्ष्य हासिल नहीं किया था।
  • गाबा टेस्ट की दूसरी पारी में नाथन ल्योन ने शुभमन गिल को 91 के स्कोर पर आउट किया। इस तरह ल्योन ने चौथी बार किसी भारतीय
  • बल्लेबाज़ को 90-100 के बीच में आउट किया है। रिकार्ड्स की बात करे तो इससे पहले वह मुरली विजय (99), केएल राहुल (90) और
  • ऋषभ पंत (97) को अपना शिकार बना चुके हैं।
  • 46वें ओवर में तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने 20 रन दिए। यह स्टार्क के टेस्ट करियर का सबसे महंगा ओवर है। बता दे पुजारा ने उनके ओवर में एक छक्का समेत 20 रन जड़े थे।

शुभकामनाओं की लगी झड़ी।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram