Hindi Newsportal

हाथरस मामले में सीएम ने योगी समाजवादी पार्टी को घेरा, कहा- हर अपराध में अपराधी सपा का ही क्यों होता है?

0 519

हाथरस की हत्या के मामले का जिक्र करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को राज्य में समाजवादी पार्टी (सपा) और अपराधियों के बीच संबंध पर सवाल उठाया।

मुख्यमंत्री ने विधानसभा में बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए इस मामले पर समाजवादी पार्टी को घेरते हुए कहा, “मैं पूछना चाहता हूं कि हर अपराधी के साथ समाजवादी शब्द क्यों जुड़ जाता है? ये कौन सी मजबूरी है? आज वहां सपा की एक रैली है और रैली के पोस्टर उस अपराधी के द्वारा लगाए गए हैं और सपा के नेताओं के साथ लगाए गए हैं। ये क्या साबित करता है?”

उन्होंने आगे कहा, “कल हाथरस में भी साबित हुआ है। सोशल मीडिया में दिनभर चल रह था कि ये टोपी वाला कौन है। हाथरस की घटना ने इस टोपी को फिर से कटघरे में खड़ा किया है। कल हाथरस में जो दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई क्या समाजवादी पार्टी का उन अपराधियों से कोई संबंध नहीं है?”

इससे पहले मंगलवार को छेड़खानी के आरोपी द्वारा लड़की के पिता की हत्या करने के मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे।सीएम योगी ने इस मामले में सभी आरोपियों पर NSA यानी ( National Security Act) ‘रासुका’ लगाने के भी आदेश दिए हैं। बता दे आरोपी के खिलाफ पिता ने बेटी को छेड़ने की शिकायत की थी जिसके बाद इन आरोपियों ने मिलकर ही गोली मारकर पिता की हत्या कर दी थी।

पुलिस अधीक्षक (एसपी) हाथरस, विनीत जायसवाल ने बुधवार को बताया कि चार आरोपियों में से एक (ललित) को गिरफ्तार कर लिया गया है और बाकी तीन आरोपियों (रोहतास, निखिल और गौरव) को गिरफ्तारी के लिए इनाम देने की घोषणा की है।

मुख्य आरोपी गौरव को गिरफ्तार करने के लिए एक लाख रुपये का नकद इनाम घोषित किया गया है और जबकि रोहतास और निखिल की जानकरी देने पर 25,000 रुपये देने की घोषणा की गई है।

कब की थी हत्या ?

हाथरस जिले के थाना सासनी क्षेत्र के गांव नौजरपुर में सोमवार देर शाम यानी बीती शाम को अपने खेत में आलू की खुदाई करा रहे अमरीश (यानी लड़की के पिता) पर चार लोगों ने फायरिंग कर दी थी। गोली लगने से घायल अमरीश की अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई थी।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक: क्या यूपी के सभी जिलों में 30 दिनों तक चलेगा मास्क चेकिंग अभियान? जानें सच

दोस्तों के साथ आया था आरोपी ।

बता दें कि गांव नौजरपुर निवासी अमरीश की गांव के कुछ लोगों से पुरानी रंजिश चली आ रही थी। इसीलिए बदले ही भावना से बीती शाम गौरव शर्मा उर्फ़ गोलू व उसके तीन साथियों ने अमरीश पर उस वक्त हथियारों से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जब वह अपने खेत पर मजदूरों से आलू की खुदाई करा रहे थे। इस हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद पुलिस ने घटनस्थल पहुंचकर मौके का मुआयना किया। इसके बाद उन्होंने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में पीड़ित परिवार की तरफ से चार लोगों के खिलाफ तहरीर दी गई थी।

2018 से चली आ रही है रंजिश।

पुलिस अधीक्षक हाथरस विनीत जयसवाल के मुताबिक ढाई साल पहले जुलाई 2018 में अमरीश (लड़की के पिता) द्वारा छेड़छाड़ की एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। जिसमें गौरव शर्मा नाम के व्यक्ति जेल भी गया था। गौरव एक महीने बाद जमानत पर बाहर आ गया था। इस घटना के बाद मृतक के परिवार का कहना है उनकी पुरानी रंजिश चली आ रही थी।

सालों बाद ऐसे फिर हुई लड़ाई।

इस घटना के शांत होने के बाद बीते दिन यानी 1 मार्च आरोपियों की बीवी और चाची की मंदिर में पीड़ित परिवार की महिलाओं से बहस हो गयी। ये बहस छेड़छाड़ के इस पुराने केस को लेकर ही हुई थी। महिलाओं के बीच हुई इस लड़ाई के बाद आरोपी, युवती के पिता से इस मामले में बहस करने के लिए पहुंचे और उसे गोली मार दी जिसके बाद युवती के पिता की अस्पताल ले जाने के दौरान ही मौत हो गयी।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram