Hindi Newsportal

सपा ने पीएम मोदी के खिलाफ पूर्व BSF जवान तेज बहादुर यादव को मैदान में उतारा

0 564

चल रहे लोकसभा चुनावों में एक नए राजनीतिक मोड़ के साथ, समाजवादी पार्टी (सपा) ने सोमवार को वाराणसी से पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव को अपनी लोकसभा उम्मीदवार शालिनी यादव की जगह खड़ा कर दिया है.

यादव, जो पहले मंदिर शहर से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे थे, अब सपा के टिकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सामना करेंगे.

पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर घोषणा की,”बहादुर सैनिक तेज बहादुर को वाराणसी से सपा का टिकट मिला है.”

गौरतलब है कि तेज बहादुर यादव को 2017 में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) से बर्खास्त कर दिया गया था क्योंकि उन्होंने सैनिकों को परोसे जाने वाले भोजन की खराब गुणवत्ता को दर्शाते हुए एक वीडियो जारी किया था.

ALSO READ: इलेक्शन सेंट्रल | LIVE: दोपहर 2 बजे तक, पश्चिम बंगाल में 52.37% मतदान, झारखंड में…

यादव ने जनवरी 2017 में सोशल मीडिया पर चार वीडियो पोस्ट किए थे, जिसमें उन्होंने जम्मू-कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर अपने शिविर में बिना पके भोजन की शिकायत की थी.

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने के अपने फैसले की घोषणा करने के बाद उन्होंने कहा था,“मैं वाराणसी से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहा हूं. प्रधानमंत्री ने कहा था कि वह अर्धसैनिक बलों के सैनिकों को शहीद का दर्जा देंगे और उन्हें पेंशन देंगे. मैं प्रधानमंत्री से पूछूंगा कि अगर आपने वादे किए थे, तो आपने आज तक क्या किया? ”

वाराणसी में चुनाव 19 मई को अंतिम चरण में होने वाला है. मतों की गिनती 23 मई से शुरू होगी.