Hindi Newsportal

फैक्ट चेक : लेफ्ट की पुरानी रैली की तस्वीर हाल ही की कांग्रेस-लेफ्ट की कोलकाता रैली के रूप में की जा रही साझा, जानें सच

0 291

एक रैली में भारी भीड़ की एक तस्वीर इंटरनेट पर इन दिनों वायरल है। दावा किया जा रहा है कि तस्वीरें 28 फरवरी, 2021 को कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में लेफ्ट फ्रंट और कांग्रेस की संयुक्त रैली की हैं, जो आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों से पहले ही हुई थी।

तस्वीर के कैप्शन में लिखा है, कोलकाता के दिल यानी “रिगेड ग्राउंड” में कांग्रेस पार्टी और CPI (M) की संयुक्त रैली में लोगों का सैलाब उमड़ा ! यह पश्चिम बंगाल में लोगों के गुस्से को दर्शाता है, यह निश्चित रूप से दिल्ली के साथ-साथ कोलकाता में भी शासकों को नींद उड़ा देगा। ‘

उपरोख्त पोस्ट का लिंक आप यहाँ देख सकते है। ऐसे ही पोस्ट आप यहाँ, यहाँ और यहाँ देख सकते है।

न्यूज़मोबाइल ने उपरोक्त पोस्ट की जाँच की और पाया कि यह दावा फेक है।

हमने चित्र पर एक रिवर्स इमेज सर्च चलाया और हमे यह चित्र Alamy वेबसाइट पर मिला।

तस्वीर का कैप्शन था, “कोलकाता, भारत। 03 फरवरी, 2019। वामपंथी कार्यकर्ता द्वारा राज्य के विभिन्न हिस्सों में Left Front ब्रिगेड की रैली में आम चुनाव 2019 से पहले हिस्सा लिया गया।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक: भ्रामक दावों के साथ साझा किया जा रहा आरएसएस कार्यकर्ताओं की रैली का पुराना वीडियो; जानें स

हमें 10 फरवरी 2019 को प्रकाशित CPI (M) के साप्ताहिक समाचार पत्र पीपुल्स डेमोक्रेसी की वेबसाइट पर एक भी यही तस्वीर मिली।

वेबसाइट के अनुसार, यह तस्वीर 3 फरवरी, 2019 को वाम मोर्चे की रैली के दौरान ब्रिगेड परेड ग्राउंड में आम चुनाव से पहले आयोजित एक बड़ी सभा की थी।

दोनों चित्रों की तुलना करने पर यह स्पष्ट हो जाता है कि 2019 में आयोजित रैली की तस्वीर हाल ही में साझा की जा रही है।

इसीलिए हम दावा कर सकते है की सोशल मीडिया पर वायरल ये तस्वीर फेक है और गलत दावों के साथ साझा की जा रही है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 11 7127 9799 पर व्हाट्सएप करें