Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: क्या सीएम योगी ने निलंबित BJP प्रवक्ता नूपुर शर्मा को समर्थन में दिया यह बयान? जाने वायरल वीडियो का सच

0 1,232

फैक्ट चेक: क्या सीएम योगी ने निलंबित BJP प्रवक्ता नूपुर शर्मा को समर्थन में दिया यह बयान? जाने वायरल वीडियो का सच

 

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सीएम योगी को एक मंच पर भाषण देने के दौरान यह कहते हुए सुना जा सकता है कि,’ जब आप उसके सामने, उसके साथ खड़े होंगे, तो आपके साथ जुड़ेगा और जब किसी पर संकट आए और आप अपना मोबाइल फोन बंद करके भाग खड़े होंगे, और फिर उम्मीद करेंगे कि वो आपके साथ खड़ा होकर के कार्य करेगा. कभी नहीं करेगा कभी नहीं करेगा. हिंदू विश्वास क्यों टूटा है? उसके पीछे कारण यही है. जब संकट आता है, भाग खड़े होते हैं लोग. पदाधिकारी अपना मोबाइल फोन बंद कर देते हैं. और उसके बाद वो व्यक्ति अकेले पड़ जाता है. सामूहिक रूप से हम लड़ना नहीं सीखते। 

इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि सीएम योगी ने यह बयान बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में दिया है। बता दें बीते कुछ दिन पहले नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट के दौरान समुदाय विशेष के धर्म गुरु को लेकर विवादित टिपण्णी की थी। नूपुर शर्मा के इसी बयान को लेकर देश में दो पक्षों के बीच बवाल छिड़ गया है। जिसके बाद देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन देखा गया।

फेसबुक पर वायरल वीडियो को शेयर कर कैप्शन में हिंदी भाषा में लिख गया है कि,” योगी जी का आया तगड़ा बयान नूपुर शर्मा के समर्थन में…”

 

फेसबुक पर वायरल वीडियो का लिंक यहां देखें।

 

फैक्ट चेक:

सोशल मीडिया पर सीएम योगी आदित्यनाथ के वायरल हो रहे इस वीडियो को देखने पर हमें इसके पूराने होने की आशंका हुई। जिसके बाद वायरल वीडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। पड़ताल के दौरान हमने इस वीडियो को InVid टूल की सहायता से कुछ कीफ्रेम्स में तोड़ा और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें वायरल वीडियो से हूबहू मेल खाती एक दूसरा वीडियो मिला। जिसे मई 25, 2020 को अपलोड किया गया था।

जहां सीएम योगी को उसी मंच से उसी अवस्था में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि ‘शाहजहां ने औरंगजेब पर ताना मारा था’. प्राप्त इस वीडियो से पता चला कि यह वीडियो क्लिप हालिया दिनों की नहीं बल्कि पुरानी है। जिसके बाद वीडियो की सटीक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने खोज की। वीडियो को खोजने के लिए हमने गूगल पर कीफ्रेम्स सहित सम्बंधित कुछ कीवर्ड्स का भी इस्तेमाल करते हुए वीडियो को खोजना शुरू कर दिया।

खोज के दौरान हमें Upasna TV नामक यूट्यूब चैनल पर वायरल वीडियो क्लिप का पूरा वीडियो मिला। यूट्यूब पर यह वीडियो मई 15, 2015 को अपलोड किया गया था। पूरा वीडियो देखकर ये बात समझी जा सकती है कि योगी उस वक्त हिंदुओं के बीच एकता और संगठन की बात कर रहे थे।

 

उपरोक्त प्राप्त वीडियो से पता चला कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं बल्कि साल 2015 के दौरान का है। सीएम योगी का यह वीडियो निलंबित नूपुर शर्मा के बयान को समर्थन देने के दौरान का नहीं बल्कि सात साल पुराना है।