Hindi Newsportal

Dhanbad judge Death Case: सुप्रीम कोर्ट में उठा मामला, झारखंड हाई कोर्ट ने लिया स्वतः संज्ञान; एसआइटी भी गठित

0 235

झारखंड के धनबाद में सड़क दुर्घटना में हुई जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत का मामला अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। दरसल गुरुवार यानी आज चीफ जस्टिस एनवी. रमना के सामने इस मसले को उठाया गया, जिसपर चीफ जस्टिस ने कहा है कि उन्होंने इस मसले पर झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से बात की है। बता दे, गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन द्वारा इस मसले को सुप्रीम कोर्ट में उठाया गया था, जिसपर जस्टिस चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह ने इसे मामले को चीफ जस्टिस के सामने उठाने को कहा था और इसी बात पर अब चीफ जस्टिस ने हाई कोर्ट में अपनी तरफ से भी बात कर ली है।

सबसे पहले जानें पूरे मामले में चीफ जस्टिस की टिप्पणी।

SCBA अध्यक्ष विकास सिंह ने इसका CJI की कोर्ट में ज़िक्र किया। चीफ जस्टिस एनवी. रमना ने बताया कि उन्होंने झारखंड हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से बात की है। हाईकोर्ट ने भी इस मामले में खुद संज्ञान लेकर राज्य सरकार को नोटिस सौंपा है और घटना पर जवाब मांगा है। इतना ही नहीं, धनबाद के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को भी इस केस में तलब किया गया है।

झारखंड हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया।

झारखंड हाईकोर्ट ने भी राज्‍य के धनबाद में कल यानी बुधवार को जिला जज उत्‍तम आनंद की कथित हत्‍या के मामले में स्‍वत: संज्ञान यानी (suo motu cognizance) लिया है।

हाईकोर्ट करेगा मॉनिटरिंग।

कोर्ट ने कहा हाईकोर्ट इस मामले की मॉनिटरिंग करेगा। जांच में थोड़ी भी कोताही बरती गयी तो मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी जाएगी।

हत्या का मामले भी दर्ज, SIT करेगा जांच।

इस मामले में हत्या का मामला दर्ज किया गया है। धनबाद के सिटी एसपी के नेतृत्व में एसआइटी गठित की गई है। एसआइटी ने जांच शुरू कर दी है। एफएसएल की टीम ने रांची से आकर उस ऑटो की जांच की जिससे जज को धक्का मारा गया। साथ ही क्राइम सीन भी दोहराया गया है।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, रोज की तरह न्यायाधीश मार्निंग वाक करने अपने आवास से गल्फ ग्रांउड मॉर्निंग वॉक करने जा रहे थे। तभी रणधीर वर्मा चौक के आगे न्यू जजेज कॉलोनी के पास समान दिशा से आ रही एक ऑटो ने उन्हें जोरदार टक्कर मारी दी । न्यायाधीश तड़पते रहे परंतु उन्हें उठाने कोई नहीं आया। तभी रास्ते पर चल रहे पीएचडी के कर्मचारी पवन पांडे की नजर उन पर पड़ी तो पवन पांडे ने टेंपू पर न्यायधीश को एसएनएमसीएच पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया ।

देखे घटना का वीडियो –

च‍र्च‍ित रंजय हत्‍याकांड की कर रहे थे सुनवाई।

न्यायाधीश उत्तम आनंद धनबाद के चर्चित रंजयझर‍िया व‍िधायक संजीव स‍िंंह के करीबी रंजय हत्याकांड की सुनवाई कर रहे थे। तीन दिन पूर्व ही उन्होंने यूपी के ईनामी शूटर अभिनव सिंह व अमन सिंह के गुर्गे रवि ठाकुर व आनंद वर्मा की जमानत खारिज की थी ।

आरोपी ऑटो ड्राइवर और उसका सहयोगी गिरिडीह से गिरफ्तार।

धनबाद के जज उत्तम आनंद की संदिग्ध मौत मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले ऑटो ड्राइवर और उसके एक सहयोगी को गिरिडीह से गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी धनबाद के जोरापोखर थाना क्षेत्र के डिगवाडीह के रहने वाले है।

सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो गया था आरोपी का चेहरा।

बता दे इस पूरे मामले में प्राप्त सीसीटीवी फुटेज के आधार पर यह गिरफ्तारी हुई है। सीसीटीवी में कैद तस्वीर को देखकर यह आशंका जतायी जा रही है कि जानबूझ कर इस घटना को अंजाम दिया गया है और ये सिर्फ दुर्घटना नहीं, बल्कि हत्या की साजिश भी हो सकती है।

परिवार ने जताया जज की हत्या का शक।

इधर जज उत्तम आनंद के परिजनों का भी कहना है कि यह सिर्फ हादसा नहीं, बल्कि सुनियोजित तरीके से की गई हत्या है। परिजनों ने पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार सिर में चोट लगने से हुई मौत।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण सिर में चोट लगना बताया गया है। रात में ही जज का पार्थिव शरीर हजारीबाग लाया गया और गुरुवार को अंत्येष्टि की गयी।

पुलिस हर थ्योरी पर कर रही जांच।

सूत्रों के मुताबिक इस मामले में झारखंड पुलिस हर क्लू को बारीकी से देख और उसकी पड़ताल कर रही है। इसके अलावा इस केस में अब सिर्फ एक शख्स ही है जो इस पूरे मामले में सच का खुलासा कर सकता है, और वो शख्स और कोई नहीं बल्कि पुलिस की गिरफ्त में आ चुका आरोपी ऑटो ड्राइवर ही है, जिससे अब सख्ती से पूछताछ की जाएगी।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram