Hindi Newsportal

Assam Election 2021: BJP विधायक की कार के अंदर मिली EVM, पीठासीन अधिकारी समेत 4 सस्पेंड, बूथ नंबर 149 पर फिर होगा मतदान

0 496

असम में बीजेपी कैंडिडेट की कार में ईवीएम मिलने के बाद चुनाव आयोग ने अब सख्त हो गयी है। दरअसल इस घटना के बाद  चुनाव आयोग ने 4 निर्वाचन अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही संबंधित पोलिंग बूथ पर दोबारा चुनाव कराने का फैसला लिया गया है। इतना ही नहीं चुनाव आयोग ने इस मामले में रिपोर्ट जारी है। इन सब के बीच उधर, कांगेस ने बीजेपी उम्मीदवार की योग्यता खारिज करने की मांग की है।

इस घटना के बाद क्या कहना है चुनाव आयोग का ?

चुनाव आयोग के अनुसार, रताबरी (एससी) सीट की पोलिंग पार्टी 149-इंदिरा एमवी स्कूल दुर्घटना का शिकार हो गई थी। इस पार्टी में एक पीठासीन अधिकारी और 3 चुनाव कर्मी शामिल थे। उन्होंने एक कॉन्स्टेबल और होमगार्ड की तैनाती में ले जाया जा रहा था। रात 9 बजकर 20 मिनट पर पोलिंग पार्टी ने वहां से गुजरने वाली गाड़ी से मदद मांगी और बिना कागजात चेक किए ईवीएम के साथ उस पर सवार हो गए।’

पोलिंग पार्टी को 50 लोगों की भीड़ ने घेरा- चुनाव आयोग।

चुनाव आयोग ने अपनी रिपोर्ट में कहा, ‘जैसा उन्होंने बताया कि वे करीमगंज की ओर बढ़े और रात 11 बजे कनईशील पहुंचे। यहां ट्रैफिक की वजह से गाड़ी की रफ्तार धीमी गई। उन्हें करीब 50 लोगों की भीड़ ने घेर लिया और उन पर पत्थर फेंके गए। भीड़ ने अब्यूज करना शुरू कर दिया और गाड़ी को वहां से आगे बढ़ने से रोक दिया।’

ये भी पढ़े : नोएडा : मम्मी-पापा ने मोबाइल गेम खेलने से किया इनकार तो 15 साल के बच्चे ने छत से लगा दी छलांग

जैसे ही भीड़ को पता चला कि गाड़ी कृष्णेंदु पॉल की है तो भीड़ हुई आग बबूला।

चुनाव आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘जब उन्होंने (पोलिंग पार्टी) भीड़ के नेताओं से पूछा तो उन्होंने बताया कि यह गाड़ी कृष्णेंदु पॉल की है जो पथरकंडी से चुनाव लड़ रहे हैं। भीड़ ने आरोप लगाया कि ईवीएम को छेड़छाड़ के लिए ले जाया जा रहा है। पोलिंग पार्टी ने सेक्टर ऑफिसर को सूचित किया। हालांकि भीड़ ने उन्हें घेर दिया और उन पर हमला किया। पोलिंग पार्टी को वाहन समेत बंधक बना लिया गया।

कांग्रेस ने उठाया सवाल।

बीजेपी विधायक की गाड़ी में ईवीएम मिलने पर कांग्रेस ने सवाल उठाया है और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘हर बार ऐसे वीडियो सामने आते हैं, जिनमें प्राइवेट गाड़ियों में ईवीएम ले जाते हुए पकड़े जाते हैं। अप्रत्याशित रूप से उनमें कुछ चीजें कॉमन होती है- गाड़ियां बीजेपी उम्मीदवार या उनके साथियों से जुड़ी होती हैं। वीडियो एक घटना के रूप में सामने आते हैं और फिर झूठ बताकर खारिज कर दिया जाता है। ‘

चुनाव आयोग ने 4 अफसरों को किया सस्पेंड।

चुनाव आयोग ने ईवीएम मामले में पीठासीन अधिकारी पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की है और साथ ही चुनाव आयोग ने चार मतदान अफसरों को निलंबित भी कर दिया है और एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। इधर इसके साथ ही चुनाव आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट भी मांगी है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram