Hindi Newsportal

होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड-19 मरीजों के लिए गुरुग्राम जिला प्रशासन ने शुरू की डॉक्टर कंसल्टेशन सेवा

Representational Image
0 79

गुरुग्राम जिला में जो कोरोना संक्रमित मरीज होम आइसोलेशन या क्वारंटाइन में रह रहे हैं उनके लिए गुरुग्राम जिला प्रशासन ने अपने आइसोलेशन सेंटर या घर से ही डॉक्टर कंसल्टेशन सेवा शुरू की है जोकि बिल्कुल फ्री है और इसके लिए मरीज को अस्पताल भी जाने की जरूरत नहीं है।

इस नई टेलीमेडिसिन सुविधा के बारे में जानकारी देते हुए गुरुग्राम के उपायुक्त डॉ यश गर्ग ने बताया कि गुरुग्राम जिला में कोरोना संक्रमित 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीज माइल्ड सिंप्टोमेटिक अर्थात उन में कोरोना के लक्षण कम दिखाई दे रहे हैं या फिर एसिंप्टोमेटिक अर्थात वे पॉजिटिव तो है लेकिन उन में कोरोना के लक्षण ना के बराबर है, ऐसे मरीजों को चिकित्सकों द्वारा होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जा रही है। उन्होंने कहा कि जिला गुरुग्राम में ऐसे मरीजों की संख्या लगभग 36000 है। इन मरीजों की सुविधा के लिए गुरुग्राम जिला प्रशासन ने फ्री डॉक्टर कंसल्टेशन सेवा शुरू की है।

ये भी पढ़े :गृह मंत्री अनिल विज ने की घोषणा, कल से हरियाणा में एक हफ्ते का पूर्ण लॉकडाउन

क्या – क्या है इस सुविधा के अंदर।

– इस सुविधा के अंतर्गत मरीज या उसका अटेंडेंट प्रातः 11:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक प्रतिदिन डॉक्टर के साथ निशुल्क जूम एप पर आमने सामने बात कर सकता है।

– जूम मीटिंग आईडी है 8197 81 69398 और इससे जुड़ने के लिए पासवर्ड है 318 187।

– गुरुग्राम में होम आइसोलेशन या क्वारंटाइन में रह रहे कोरोना संक्रमण से ग्रसित व्यक्तियों के लिए गुरुग्राम जिला प्रशासन ने शुरू की यह नई टेलीमेडिसिन सुविधा।

– यह सुविधा बिल्कुल निशुल्क है, आप सीधे डॉक्टर से आमने सामने जूम एप पर परामर्श ले सकते हैं।

– घर बैठे आप गुरुग्राम जिला प्रशासन की इस सुविधा से चिकित्सकों की अनुभवी टीम से सीधे ले सकते हैं परामर्श, वह भी बिलकुल फ्री।

– डॉक्टर से कंसल्टेशन या परामर्श लेने के लिए आपको अस्पताल जाने की जरूरत नहीं है।

– उपायुक्त डॉ यश गर्ग ने कहा कि ज़िला में कोरोना संक्रमित 70% से ज्यादा मरीज होम आइसोलेशन में रह रहे हैं, वे होम आइसोलेशन में रहते हुए वहीं से अनुभवी डॉक्टर से परामर्श ले सकते हैं।

– जिला की कोविड-19 हेल्पलाइन 1950 पर भी इस सुविधा के बारे में बताया जा रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा मरीज घर बैठे ही चिकित्सीय परामर्श लेकर ठीक हो सके और कोरोना को मात दे सकें। इस हेल्पलाइन के माध्यम से भी मरीज या उसके अटेंडेंट की सीधे अनुभवी चिकित्सक से बात करवाई जा रही है ताकि वह अपनी स्थिति बताकर दवा आदि के बारे में सलाह ले सके।

– उपायुक्त डॉ गर्ग ने गुरुग्राम वासियों से अपील की है कि वे इस टेलीमेडिसिन सुविधा का पूरा लाभ उठाएं और अपने मित्रों तथा परिचितों को भी इसके बारे में बताएं।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram