Hindi Newsportal

‘यमुना को स्वच्छ’ करने की योजना से लेकर डबल डेकर फ्लाईओवर तक, दिल्ली बजट 2023 की मुख्य विशेषताएं

0 537

नई दिल्ली: केंद्र और आप के बीच दो दिनों तक चली खींचतान और तीखी नोंक झोंक के बाद बुधवार को वित्त मंत्री कैलाश गहलोत ने दिल्ली का बजट पेश किया. दिल्ली के वित्त मंत्री कैलाश गहलोत ने बजट पेश करने के दौरान कहा, कि मुझे ज्यादा खुशी होती अगर ये बजट पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पेश करते. वे मेरे बड़े के समान ही नहीं मेरे बड़े भाई हैं.

वित्तमंत्री के तौर पर कैलाश गहलोत ने बजट पेश करते हुए कहा कि यह बजट साफ, सुंदर और आधुनिक दिल्ली को समर्पित कर रहा हूं. दिल्ली सरकार ने पिछले 8 सालों में दिल्ली का चेहरा बदल दिया है. पिछले 8 सालों में PWD ने 28 नए फ्लाईओवर, सड़कों औए पुलों का निर्माण किया है.

 

कैलाश गहलोत ने बजट पेश करते हुए कहा कि 1998 में दिल्ली मेटो का निर्माण शुरू होने के बाद 2015 तक 193 किलोमीटर था. पिछले 8 सालों में मेट्रो नेटवर्क बढ़कर 390 किलोमीटर हो गया है. स्टेशन 286 हो गए हैं.

 

बजट से जुड़ी कुछ अहम बातें
  • दिल्ली सरकार ने वित्त वर्ष 2023-24 के लिए 78,800 करोड़ रुपये का बजट अनुमान पेश किया.
  • गहलोत ने दिल्ली में 57 मौजूदा बस डिपो के विद्युतीकरण, 9 नए बस डिपो, 3 आईएसबीटी और 2 बहु-स्तरीय बस डिपो के निर्माण की घोषणा की.
  • गहलोत ने कहा, ‘2015-23 के बीच दिल्ली मेट्रो का नेटवर्क दोगुना हो गया. आज बसों की संख्या बढ़कर 7,379 हो गई है, जो सबसे ज्यादा है.
  • दिल्ली सरकार ने यमुना को साफ करने और कचरे के तीनों पहाड़ों को हटाने के लिए 6-सूत्रीय कार्य योजना रखी, इसे “बजट का फोकस” करार दिया.
  • डीएमआरसी के सहयोग से, गहलोत ने कहा कि दिल्ली सरकार भजनपुरा से यमुना विहार, आजादपुर से रानी झांसी चौराहों और साकेत से पुल प्रह्लादपुर तक तीन अद्वितीय डबल-डेकर फ्लाईओवर का निर्माण करेगी.