Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: हेलीकॉप्टर पर समुद्री शार्क के हमले का वीडियो असली नहीं, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ वीडियो

0 352

फैक्ट चेक: हेलीकॉप्टर पर समुद्री शार्क के हमले का वीडियो असली नहीं, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ वीडियो 

 

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, इस वीडियो में एक समुद्री शार्क को समुद्र तल से कुछ ही दूरी की ऊंचाई पर उड़ रहे एक हेलीकॉप्टर को निगलते हुए देखा जा सकता है। इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि इस दुर्लभ वीडियो को खरीदने के लिए National Geographic Channel ने 1 मिलियन डॉलर दिया।

फेसबुक पर इस वीडियो को शेयर कर अंग्रेजी भाषा के कैप्शन में लिखा गया है कि- The source of this daring Video is open and subject to verifications. Whatever be the authentic and true source it is terrifying  But laudable, even if manufactured. Please view it against this caveat. 

इसके साथ ही वीडियो में ही लिखा गया था कि National Geographic channel Paid 1 Million Dollor for this rare video… What a video

फेसबुक पोस्ट

 

 

फेसबुक पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

 

फैक्ट चेक 

 

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में पता चला कि यह वीडियो एक फिल्म के सीन का है।

वायरल वीडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने वीडियो को पहले Invid टूल की सहायता कुछ कीफ्रेम्स में तब्दील किया और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। जहां खोज के दौरान हमें वक ट्वीट मिला जहां इस वीडियो को शेयरम कर कुछ जानकारी दी गयी थी। बता दें प्राप्त इस ट्वीट को 05 फरवरी, 2017 को Te Lo Resumo नामक ट्विटर हैंडल द्वारा किया गया था।

ट्वीट किसी अन्य भाषा में था, गूगल ट्रांसलेट के माध्यम से हमने जाना कि ट्वीट में जानकारी दी गयी है कि, यह सीन एक फिल्म का है जिसका नाम 5- Headed Shark Attack (2017) है।

 

फिर इसके बाद हमने गूगल पर 5- Headed Shark Attack (2017) नाम से यूट्यूब पर खोजना शुरू किया। जिसके बाद हमें यूट्यूब के आधिकारिक यूट्यूब मूवीज नामक चैनल पर इस फिल्म का ट्रेलर प्राप्त हुआ, जहां 1 मिनट 8 सेकंड में वायरल वीडियो वाले दृश्य को बखूबी देखा जा सकता है।

 

इस तरह हमारी पड़ताल में यह साबित हुआ कि वायरल वीडियो वाला दृश्य एक फिल्म 5-Headed Shark का है जो साल 2017 में आयी थी, इसका दृश्य का सत्यता से कोई संबंध नहीं है और ना ही National Geographic Channel ने इस वीडियो के 1 बिलियन डॉलर दिए।