Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: क्या तेजस्वी यादव को 30 वर्ष की आयु में मिला है ’यंगेस्ट पॉलिटिशियन अवार्ड’?

0 322

राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से प्रचारित की जा रही है जिसमें दावा किया गया है कि तेजस्वी यादव को लंदन में तीस साल की उम्र में ‘यंगेस्ट पॉलिटिशियन अवार्ड’ (‘Youngest Politician Award’) से सम्मानित किया गया था।

फेसबुक के कैप्शन में लिखा है – “नौवीं फेल तो बहुत हो गया बंदरों… जिस उम्र में तुम्हारे पापा चाय बेचते थे उस उम्र में सबसे युवा राजनीतिक अवार्ड तेजस्वी यादव को लंदन में मिला था !!”

(Translation: Ninth fail is enough, monkeys… Tejashwi Yadav got the ‘Youngest Politician Award’ in London at the age in which your father used to sell tea !!)

पिक्चर के कैप्शन में लिखा था – “कोई फर्जी डिग्री बना कर भी 30 की उम्र में भीख मांगा करता था, कोई नौवी फ़ैल हो कर भी 30 के उम्र में झंडे गाड़ रहा है l”

(Translation: Someone used to beg at the age of 30 even after producing fake degrees, some are making a mark for himself in London at the age of 30 even after failing 9th standard.)

इसी तरह के अन्य पोस्ट आप यहां, यहां और यहां देख सकते है।

इसके अलावा, तेजस्वी यादव की एक और तस्वीर का कोलाज भी इसी तरह के दावों के साथ सोशल मीडिया पर लगातार शेयर किये जा रहा है।

इस तरह के अन्य पोस्ट आप यहां, यहां और यहां देख सकते है।

न्यूज़ मोबाइल ने इस वायरल पोस्ट का फैक्ट चेक किया और पता चला ये कि ये भ्रामक है।

हमें इस पोस्ट के भ्रामक होने का पहला सुराग उस वक़्त मिला जब हमने फेसबुक पोस्ट पर एक टिप्पणी देखी जिसमें दावा किया गया था कि तेजस्वी यादव के बारे में सोशल मीडिया के दावे झूठे हैं।

ये भी पढ़े : फैक्ट चेक: हैदराबाद में भारी बारिश के बीच कांग्रेस नेताओं की इस वायरल तस्वीर का जानें सच

इसी फेसबुक पोस्ट के कमेंट में लिखा था – ये पुरस्कार के साथ क्या चल रहा है? (“What is hell is going on, Award)

इस पोस्ट में दावा: तेजस्वी यादव को लंदन में सबसे कम उम्र के राजनीतिक नेता के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

अब बात करते है तथ्यों की – ये तस्वीर वास्तव में तेजस्वी की लंदन में ICE सदस्यों के साथ 2016 में हुई बातचीत की थी वो भी उस वक़्त कि जब वह बिहार के डिप्टी सीएम थे। उन्होंने उन तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर किया था। इसके अलावा, हमें कोई भी समाचार लेख नहीं मिला, जिसमें कहा गया हो कि तेजस्वी यादव को लंदन में यंग पॉलिटिकल लीडर अवार्ड मिला हो। इसलिए सोशल मीडिया के पोस्ट में किया गया दावा भ्रामक है।

पहली इमेज।

चित्र को Google Reverse Image Search के माध्यम से डालने पर, हमें तेजस्वी यादव के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर 11 अगस्त, 2016 को यही तस्वीर मिली, जिसमें दावा किया गया था कि वह लंदन में ICE (सिविल इंजीनियरों के संस्थान / Institution of Civil Engineers) के सदस्यों के साथ एक सत्र में भाग ले रहे थे।

हमें 13 अगस्त, 2016 को बोल बिहार की एक समाचार रिपोर्ट में दूसरी तस्वीर मिली, जिसमें दावा किया गया था कि तेजस्वी 2016 में इंग्लैंड की यात्रा पर गए थे, जहां उन्होंने लंदन में आईसीई सदस्यों को संबोधित किया था।

चित्र 2

इसके अलावा, हमने 17 अगस्त, 2016 को प्रभात खबर के एक समाचार लेख में तेजस्वी यादव के वायरल कोलाज की दूसरी तस्वीर मिली जिसमे दावा किया गया था कि तेजस्वी यादव जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र के आर्थिक आयोग के निदेशक के साथ (UN Economic Commission in Geneva) बैठक कर रहे थे।

चित्र 3

तीसरी तस्वीर के लिए, जब हमने रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें 17 अगस्त, 2016 को तेजस्वी यादव का एक ट्वीट मिला जिसमे वहीं तस्वीर थी जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही थी। तेजस्वी ने 17 अगस्त, 2016 को किये ट्वीट में लिखा था कि उन्होंने कहा था कि UNECE (United Nations Economic Commission for Europe) और IRF (International Road Federation) के साथ उनकी एक सार्थक बैठक संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय जिनेवा में हुई.

सोशल मीडिया पर वायरल कोलाज की पहली तस्वीर हमे नहीं मिली लेकिन हम स्पष्ट रूप से देख सकते हैं कि वायरल पोस्ट में पोशाक (ब्लैक टक्सेडो, सफेद शर्ट और ब्लश गुलाबी टाई) समाचार लेख के समान है।

आगे की पुष्टि के लिए, हमने ICE की आधिकारिक वेबसाइट पर भी खोज की और हमें वेबसाइट पर ‘यंगेस्ट पॉलिटिशियन अवार्ड’ से संबंधित कोई भी जानकारी नहीं मिली।

इसलिए, हम दावा कर सकते है कि सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट गलत और भ्रामक है।

यदि आप किसी भी स्टोरी को फैक्ट चेक करना चाहते हैं, तो इसे +91 88268 00707 पर व्हाट्सएप करें।