Hindi Newsportal

पीएम मोदी ने काशी में कार्यकर्ताओं को किया संबोधित, कहा केमिस्ट्री ने झुठलाया राजनीतिक पंडितों का गणित

0 409

लोकसभा चुनावों में प्रचंड बहुमत के साथ जीतने के बाद और 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने से पहले पीएम मोदी ने सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र कासी का दौरा किया. दौरे की शुरआत उन्होंने कशी विश्वनाथ मंदिर में पूजा अर्चना करके की, जिस दौरान उनके साथ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी नज़र आये.

इसके बाद उन्होंने भाजपा के कार्यकर्ताओं की एक सभा को सम्बोधित किया. उन्होंने चुनावों में उनकी जीत सुनिश्चित करने के प्रयासों के लिए कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया.

उन्होंने पार्टी कैडर को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार ‘सबका साथ सबका विकास’ सुनिश्चित करने के लिए काम करेगी और कहा कि पारदर्शिता और कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं है.

पार्टी और लोगों के बीच की केमिस्ट्री पर ज़ोर देते हुए उन्होंने कहा,’चुनाव परिणाम वो तो एक गणित होता है. 20वीं सदी के चुनावों के हिसाब-किताब भी गणित और अंकगणित के दायरे में चले होंगे, लेकिन 2014, 2017 और 2019 के चुनाव में देश के राजनीतिक विश्लेषकों को मानना होगा कि अर्थमैटिक के आगे भी केमिस्ट्री होती है. देश में समाज शक्ति की जो कैमिस्ट्री है, आदर्शों, संकल्पों की जो कैमिस्ट्री है वो कभी-कभी सारे गुणा-भाग को, अंक गणित को पराजित कर देती है. इस चुनाव में अंक गणित को कैमिस्ट्री ने पराजित किया है.’

उन्होंने कहा,”शायद ही कोई उम्मीदवार चुनाव के समय इतना निश्चिंत होता होगा, जितना मैं था. इस निश्चिंतता का कारण आपका परिश्रम और काशीवासियों का विश्वास था. नतीजे और मतदान दोनों समय मैं निश्चिंत था और बड़े मौज के साथ केदारनाथ में बाबा के चरणों में बैठ गया था.”

बनारस में अपने पिछले छः किलोमीटर लंबे रोड शो से पहले कार्यकर्ताओं के संबोधन का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा,” इस चुनाव में जब कार्यकर्ताओं के साथ मेरा मिलना हुआ था तो उस दिन मैंने कहा था कि यहां पर शायद नामांकन तो एक नरेंद्र मोदी का हुआ होगा, लेकिन ये चुनाव हर घर का नरेंद्र मोदी लड़ेगा, हर गली का नरेंद्र मोदी लड़ेगा.”

भारतीय जनता पार्टी को लोकतंत्र की संरक्षक की भूमिका में दर्शाते हुए उन्होंने कहा,”हम लोकत्रंत में विश्वास रखने वाले लोग हैं. जहां-जहां हमें मौका मिला है, वहां विपक्ष की आवाज को महत्व दिया है, जनता के अविश्वास के कारण उनकी संख्या चाहे कम ही क्यों न हो.”

उत्तर प्रदेश को उन्होंने भारतीय राजनीति के लिहाज़ से बेहद महत्त्वपूर्ण बताया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश की राजनीति को एक नयी दिशा दे रहा है. 2014 हो, 2017 हो या 2019 हो, ये हैट्रिक छोटी नहीं है. उत्तर प्रदेश के गांव का गरीब व्यक्ति भी देश की सही दिशा के बारे में सोचता भी है और उस दिशा में चलता भी है.

ALSO READ: झारखंड, असम, पंजाब के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों ने की इस्तीफे की पेशकश

बनारस की महिलाओं द्वारा निकाली गयी नायाब स्कूटी यात्रा का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा,”यहां की बेटियों ने जो स्कूटी यात्रा निकाली उसकी पूरे देश में और सोशल मीडिया में बड़ी चर्चा है, स्कूटी पर बैठकर हमारी बेटियों ने पूरी काशी को अपने सिर पर बैठा लिया था.”

पीएम मोदी के साथ साथ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और योगी आदित्यनाथ ने भी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित किया. शाह कि मोदी जी ने काशी की जनता पर भरोसा किया और लोगों ने भी उनका भरोसा कायम रखा. वहीं आदित्यनाथ ने बनारस को पीएम मोदी जैसे प्रत्याशी मिलने पर सौभाग्यशाली बताया.