Hindi Newsportal

दिग्विजय सिंह का पीएम मोदी पर ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ नारे को लेकर हमला

File Image
0 475

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण पर जारी बहस के दौरान मंगलवार को बोलते हुए राज्यसभा में कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा.

2019 लोकसभा चुनावों के दौरान भाजपा के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ नारे पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि 2019 में भाजपा ने ‘सबका विश्वास’ नारे का इस्तेमाल नहीं किया, जबकि भाजपा इस नारे में ख़ुद विश्वास नहीं रखती है.

उन्होंने कहा कि जो प्रधानमंत्री राष्ट्रपति की इफ्तार पार्टी में जाने को राजी नहीं था और जिस व्यक्ति ने मुस्लिम टोपी पहनने से इनकार कर दिया, वो आज अल्पसंख्यकों का विश्वास जीतने की बात कर रहे हैं.

सदन के शुरुआती दो दिनों के शपथ ग्रहण कार्यक्रम के दौरान  सदन में लगाए गए धार्मिक नारों पर बोलते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि आज देश में ऐसे नेता सामने आ रहे हैं जो हिंदुओं को भड़काते हैं, मुसलमानों को भड़काते हैं जो चिंता का विषय है.

ALSO READ: राज्यसभा उपचुनाव के लिए विदेश मंत्री एस जयशंकर और जेएम ठाकोर ने दाखिल किया नामांकन

इसके साथ ही उन्होंने झारखंड की हालिया मॉब लिंचिंग घटना पर भाजपा को घेरते हए कहा कि आपके समर्थक झारखंड में एक व्यक्ति को मार रहे हैं और उससे नारे लगवा रहे हैं . भले ही उसने चोरी की हो लेकिन उसके लिए उसे कानूनी सजा दी जा सकती थी.

सांप्रदायिक दंगों के साथ-साथ दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी को आतंकवाद के मुद्दे पर भी घेरा. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के कार्यकाल के दौरान आतंकवाद की घटनाएं बढ़ी है. पुलवामा आतंकी हमले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा जानकारी दिए जाने के बाद भी लापरवाही क्यों बरती गयी, जबकि उस घटना को होने से रोका जा सकता था.