Hindi Newsportal

जम्मू-कश्मीर: त्राल के नगर पार्षद राकेश पंडिता का हुआ अंतिम संस्कार, तीन आतंकवादियों ने गोली मारकर की थी हत्या

0 421

कश्मीर के त्राल में आतंकियों की गोलियों का शिकार बने भाजपा काउंसलर राकेश पंडिता का शव वीरवार तड़के जम्मू स्थित रूप नगर में उनके निवास पहुंचा जहां कुछ धार्मिक औपचारिकताएं पूरी करने के बाद शव को बनतालाब शमशान भूमि ले जाया गया जहां उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। राकेश पंडिता की चिता को उनके बेटे पारस पंडिता ने मुखािग्नी दी जबकि इस मौके पर भाजपा सांसद जुगल किशोर शर्मा, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष रविंद्र रैना व पूर्व एमएलसी विक्रम रंधावा भी वहां मौजूद थे।

बीते दिन तीन आतंकवादियों ने की थी हत्या।

बता दे पंडिता की बुधवार को त्राल पाईन में तीन आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। मिली जानकारी के मुताबिक पंडिता पर तब हमला किया गया जब वो अपने पड़ोसी से मिलने उसके घर गए थे और उस वक्त उनके साथ हमेशा रहने वाले उनके दो निजी सुरक्षा अधिकारी (PSO) मौजूद नहीं थे।

क्या कहना है बेटे का ?

इधर राकेश पंडिता के बेटे ने कहा, “पापा ही हमारे घर में कमाने वाले थे, मेरी मम्मी हाउस वाइफ हैं और चाचा विकलांग। मैं सरकार से यही चाहता हूं कि अगर ये साज़िश है तो पता किया जाए कि इसके पीछे कौन थे।”

ये भी पढ़े : COVID-19 LIVE | लगातार दूसरे दिन दैनिक मामलों में बढ़ोतरी, बीते 24 घंटे में दर्ज 1.34 लाख संक्रमित, 2,887 मौतें

क्या कहना है पुलिस का?

इस घटना के बाद कश्मीर के इंस्पेक्टर जनरल ने बताया कि बुधवार देर शाम तीन अज्ञात आतंकवादियों ने त्राल के नगर पार्षद राकेश पंडिता पर ताबड़तोड़ गोलिया बरसाना शुरू कर दिया। राकेश त्राल में रहते थे और उस दिन त्राल पाईन में अपने दोस्त से मिलने गए थे। उन्होंने बताया कि इस घटना में उसके दोस्त की बेटी गंभीर रूप से घायल हो गई।

सुरक्षा के लिए दो PSO भी रहते थे तैनात।

कुमार के मुताबिक, ” राकेश श्रीनगर में सुरक्षित आवास में रह रहे थे और उनकी सुरक्षा के लिए दो PSO भी तैनात किए गए थे। हालांकि उस दिन त्राल की यात्रा के दौरान पार्षद PSO के साथ नहीं थे।” वहीं पुलिस और सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और हमलावरों को पकड़ने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया गया है।

पार्टी के किसी भी लोगों को दौरे पर जाने देने की अनुमति नहीं।

इधर इस घटना के बाद IGP ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि फिलहाल पार्टी के किसी भी लोगों को दौरे पर जाने देने की अनुमति नहीं है। स्थानीय खतरे का जमीनी आकलन करने के बाद ही सुरक्षा प्राप्त लोगों को दौरे की अनुमति दी जाएगी। उन्होंने सुरक्षा प्राप्त लोगों से SOP का पालन करने का अनुरोध भी किया है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram