Hindi Newsportal

उत्तर भारत में गर्मी और लू का प्रकोप कम होने की संभावना, इन इलाकों में जमकर बरसेंगे बादल

file photo: heat weather
0 302

नई दिल्ली: उत्तर भारत दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में रविवार को 49 डिग्री सेल्सियस तापमान ने लोगों को परेशान कर दिया.

 

जबकि, आईएमडी के मुताबिक अगले दो निनों में दिल्ली समेत उत्तर भारत में गर्मी और लू का प्रकोप कम होने की संभावना है. साथ ही पांच जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है.

 

IMD ने ताजा पूर्वानुमान में कहा है कि पंजाब और हरियाणा पर एक चक्रवाती परिसंचरण पूर्व-मानसून गतिविधि को प्रेरित करेगा जिससे सोमवार और मंगलवार (16 और 17 मई) को दिल्ली और सटे इलाकों में भीषण गर्मी से कुछ राहत मिलेगी. आईएमडी ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को आंधी या धूल भरी आंधी चलने की संभावना है. इससे तापमान लुढ़कने के आसार रहेंगे.

 

मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार (17 मई) को हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में बारिश हो सकती है, जबकि हिमाचल प्रदेश, बिहार, झारखंड, ओडिशा, उत्तारखंड और गंगा के मैदानी इलाकों में जोरदार बारिश हो सकती है. इससे गर्मी से लोगों को राहत मिल सकती है.

 

दिल्ली में सफदरजंग वेधशाला ने 45.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया. जबकि उत्तर पश्चिमी दिल्ली के मुंगेशपुर और दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के नजफगढ़ में दो मौसम केंद्रों ने क्रमशः 49.2 और 49.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया.

 

वहीं सफदरजंग में तापमान इस सीजन में सबसे ज्यादा रहा.

 

उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र के बांदा जिले में दिन का अधिकतम तापमान 49 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जो राज्य में सबसे अधिक है.

 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के आंकड़ों के अनुसार, मई में बांदा में यह अब तक का सबसे अधिक तापमान दर्ज किया गया. जिले में पिछला अधिकतम तापमान 31 मई 1994 को 48.8 डिग्री सेल्सियस था.

 

आईएमडी ने कहा कि, राजस्थान में चुरू और पिलानी में अधिकतम तापमान क्रमश: 47.9 और 47.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, इसके बाद श्री गंगानगर और झांसी (47.6), नारनौल (47.5), खजुराहो और नौगोंग (47.4) और हिसार (47.2) रहे.

 

मौसम कार्यालय ने कहा कि हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, जम्मू, कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, उत्तराखंड, पंजाब और बिहार में कई स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य (5.1 डिग्री या अधिक) से अधिक था.