Hindi Newsportal

आज राजद की उच्च स्तरीय बैठक में पार्टी के नेतृत्व पर उठ सकते हैं सवाल

0 421

23 मई को आए चुनाव के नतीजों से राष्ट्रिय जनता दल अचंभे में है. चुनावों में बिहार की सभी 40 सीटों पर पार्टी का सूपड़ा साफ़ होने के बाद मंगलवार को राजद के प्रमुख नेताओं की हाई लेवल मीटिंग बुलाई गयी है, जिसमें हार के कारणों की समीक्षा की जाएगी.

लोकसभा चुनावों के नतीजों की समीक्षा करने के लिए आयोजित दो दिवसीय बैठक का आज पहला दिन है. राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में प्रत्याशिओं और विधायकों की हार के कारणों की समीक्षा की जाएगी.

पार्टी के नेताओं के बीच नतीजों के बाद दिख रही अहमति के कारण आज की बैठक में नाराज़गी देखने को मिल सकती है और वहीं पार्टी के नेतृत्व को लेकर सवाल भी उठ सकते हैं.

इसकी एक झलक राजद के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह के बयान में देखने को मिली. उन्होंने बिहार में राजद की हार के लिए लालू के दोनों बेटों, तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव के बीच के मतभेदों को ज़िम्मेदार बताया.

पार्टी नेतृत्व पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा था कि कमज़ोर नेतृत्व के कारण केवल पार्टी को ही नहीं बल्कि पुरे गठबंधन को भारी नुक्सान हुआ है. इसके लिए उन्होंने तेज प्रताप यादव पर कार्रवाई करने की भी मांग की थी.

ALSO READ: इस्तीफे पर अड़े राहुल गांधी; प्रियंका, गेहलोत समेत कांग्रेस के बड़े नेता मिलने…

इसके अलावा पार्टी विधायक महेश्‍वर प्रसाद यादव ने भी पार्टी के नेतृत्व पर सवाल खड़े करते हुए तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग की थी.

बता दें कि बिहार में पार्टी का खाता नहीं खुल सका. बिहार में लोकसभा की कुल 40 सीटें हैं, जिनमें से 20 पर पार्टी ने अपने प्रत्याशी उतारे थे. वहीं एनडीए 39 सीटें जीतने में कामयाब रही और कांग्रेस एक सीट ही बचा पाई.