Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुग़ल शासक औरंगजेब को नहीं बताया शहीद, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ वीडियो, जाने पूरा सच

0 532

फैक्ट चेक: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुग़ल शासक औरंगजेब को नहीं बताया शहीद, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ वीडियो, जाने पूरा सच

 

सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में उद्धव ठाकरे को एक मंच से मराठी भाषा में भाषण देते हुए सुना जा सकता है। 30 सेकंड के इस वीडियो के माध्यम से सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है उद्धव ठाकरे ने मुग़ल शासक औरंगजेब को शहीद कहा।

फेसबुक पर इस वीडियो को शेयर कर कैप्शन में लिखा गया है कि, ‘अगर किसी को मराठी भाषा समझ में नही आती हैं तो मैं बता देता हूँ कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बोल रहे हैं कि भगवा टोपी गमछा लगा लेने से कोई हिन्दू नही हो जाता,और दूसरा बिंदु बोल रहे है कि औरंगजेब हमारे देश के लिए शहीद हुआ था’

 

 

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।   

फैक्ट चेक : 

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ शेयर किए जा रहे दावे की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल की। पड़ताल के दौरान हमने सबसे पहले वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में बांटा और गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें यूट्यूब ATV Gulbarga नामक यूट्यूब चैनल पर वायरल वीडियो से मेल खाता एक वीडियो मिला। जहां यह जानकारी मिली कि सीएम उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के औरंगाबाद में यह भाषण दे रहे हैं। यह वीडियो जून 09,2022 को यूट्यूब अपलोड किया गया है।

 

वायरल वीडियो की सटीक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया।  खोज के दौरान हमें tv9 की मराठी भाषा के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर इस भाषण का पूरा वीडियो मिला। बता दें सीएम उद्धव ठाकरे का यह वीडियो मराठी भाषा में ही था। इसलिए वीडियो को समझने के लिए हमने अपने मराठी भाषा के सहयोगी से सहायता ली। सहयोगी ने बताया कि उद्धव ठाकरे ने औरंगजेब नाम के भारतीय सैनिक के बारे में बात  करते हुए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के ‘हिंदुत्व’ वाले विचारों को लेकर निशाना साधा था।

इस दौरान उद्धव ठाकरे ने अपने भाषण में कहा कि, ‘ऐसा ही एक सैनिक अपने देश के लिए लड़ रहा था। उसने कई आतंकवादियों को मार गिराया था क्योंकि वो एक गनमैन था। जब वो घर जा रहा था, तो उसका अपहरण कर लिया गया। कुछ दिनों बाद, उसका क्षत-विक्षत शव मिला। उसका नाम औरंगजेब था जो हमारे देश के लिए शहीद हो गया। अब आप कह रहे हैं कि वो हमारा नहीं है, क्योंकि वो एक मुसलमान है? कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो कौन है। वो हमारे देश के लिए लड़ा और यही हमारे लिए ‘हिंदुत्व’ है।

 

 

उपरोक्त प्राप्त वीडियो से हमें पता चला कि वायरल वीडियो महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने मुग़ल शासक औरंगजेब को शहीद नहीं बताया बल्कि देश के लिए जान गवाने सेना के जवान जिसका नाम औरंगजेब था उन्हें शहीद कह रहे थे।