Hindi Newsportal

लिंचिंग के लिए ज़िम्मेदार संगठनों का है संघ परिवार से संबंध: असदुद्दीन ओवैसी

File Image
0 401

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को कहा कि ‘जय श्री राम’ और ‘वंदे मातरम’ का जाप नहीं करने के लिए देशभर में लोगों को पीटा जा रहा है. उन्होंने आगे कहा कि इसके लिए सिर्फ दलित और मुसलमानों को टारगेट किया जा रहा है और इस तरह की लिंचिंग के लिए जिम्मेदार संगठन संघ परिवार से संबंध रखते हैं.

उन्होंने कहा, “जय श्रीराम और वंदे मातरम के नारे नहीं लगाने वालों को पीटा जा रहा है. यह घटनाएं कम नहीं हो रही हैं. केवल मुस्लिम और दलितों को टारगेट किया जा रहा है. इसके पीछे जो भी संगठन हैं, उनका संबंध संघ परिवार से है.”

ओवैसी का बयान उस हालिया घटना के एक दिन बाद आया है, जिसमें एक मुस्लिम लड़के को अज्ञात पुरुषों ने ‘जय श्री राम’ का जाप नहीं करने के लिए पीटा था. पुलिस ने कहा था कि यह घटना तब हुई जब कानपुर के किदवई नगर की एक मस्जिद में बारा निवासी मोहम्मद ताज ‘नमाज’ अदा करने के बाद घर लौट रहा था.

ALSO READ: भारत ने रूस के साथ 200 करोड़ रुपये के एंटी टैंक मिसाइल सौदे पर किए हस्ताक्षर

बता दें कि पिछले दिनों झारखंड के जमशेदपुर में भीड़ द्वारा एक युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले को लेकर भी ओवैसी ने बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधा था.

झारखंड के जमशेदपुर में 24 साल के युवक तबरेज अंसारी  को चोरी के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया था, जिस दौरान उससे जबरन जय श्री राम और जय हनुमान भी बुलवाया गया था. घटना के बाद इलाज के दौरान अंसारी की मौत हो गयी थी. उस समय भी ओवैसी ने संघ और भारतीय जनता पार्टी पर देश का माहोल बिगाड़ने का आरोप लगाया था.