Hindi Newsportal

नेहरु ने नहीं दिए श्यामा प्रसाद मुख़र्जी की मौत की जांच के आदेश: जेपी नड्डा

0 446

रविवार को भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुख़र्जी की पुण्यतिथि पर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने देश भर में उन्हें श्रधांजलि अर्पित की. वहीं पार्टी के नए कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने अपने ताज़ा बयान में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु पर मुख़र्जी की मौत की जांच करने के आदेश न देने का आरोप लगाया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी नई दिल्ली स्थित भाजपा कार्यालय में दिवंगत नेता श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथी पर उन्हें श्रद्धांजलि दी.

भाजपा संस्थापक मुख़र्जी को श्रधांजली अर्पित करने के बाद कांग्रेस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि श्यामा प्रसाद मुख़र्जी  की मौत के बाद पूरे देश में उनकी मौत के कारणों की जांच होने की मांग उठी थी, जिसके बावजूद भी तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु ने इस मामले को संज्ञान में नहीं लिया और मामले में जांच के आदेश पारित नहीं किए.

ALSO READ: मायावती ने बुलाई बड़ी बैठक, उपचुनावों और 2022 विधानसभा चुनावों की रणनीति पर चर्चा

भारतीय जनता पार्टी के विकास में मुख़र्जी की भूमिका पर बोलते हुए जेपी नड्डा ने कहा, ‘डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अपने जीवन में जो कार्य किए वो उस समय से बहुत आगे के थे. उन्हीं के प्रयासों से ही आज पश्चिम बंगाल और कश्मीर भारत के अभिन्न अंग हैं. देश डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान को सदैव स्मरण करता रहेगा.’

बता दें कि संसद में अपने भाषण में मुखर्जी ने धारा-370 को समाप्त करने की भी जोरदार वकालत की थी.

1953 में रहस्यमय परिस्थितियों में इस दिन जम्मू और कश्मीर में मुखर्जी की मृत्यु हो गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख़र्जी की पुण्यतिथि पर ट्वीट कर भावपूर्ण श्रधांजली दी. उन्होंने लिखा,” डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनके बालिदान दिवस पर याद करते हुए. एक देशभक्त और गर्वित राष्ट्रवादी, डॉ मुकर्जी ने भारत की एकता और अखंडता के लिए अपना जीवन समर्पित किया. एक मजबूत और एकजुट भारत के लिए उनका जुनून हमें प्रेरित करता है और हमें 130 करोड़ भारतीयों की सेवा करने की ताकत देता है.”