Hindi Newsportal

दिल्ली : लड़की से दोस्ती करने पर 18 वर्षीय लड़के की पीट-पीटकर हत्या, 3 किशोरों सहित 5 लोग गिरफ्तार

0 567

राजधानी दिल्ली के आदर्श नगर में एक 18 वर्षीय लड़के की कथित तौर पर एक लड़की के साथ दोस्ती के चलते पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। इस मामले में उस महिला के भाई और एक रिश्तेदार सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि तीन किशोर को भी हिरासत में लिया गया है। बता दे यह घटना बुधवार शाम को हुई थी।

ये था मामला।

पुलिस के मुताबिक, मृतक राहुल राजपूत दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग में द्वितीय वर्ष का छात्र था। इसके साथ ही वह स्कूली बच्चों को ट्यूशन भी पढ़ाता था। राहुल की उसके इलाके की एक युवती से दोस्ती थी, लेकिन लड़की का परिवार इस दोस्ती के खिलाफ था।

अपने घर की लड़की की दोस्ती किसी और लड़के से युवती के परिवार को इतनी नागवार गुज़री कि आरोपियों ने राहुल को किसी बहाने से नंदा रोड पर बुलाया था। जब वह वहां पर पहुंचा तो चार-पांच लोगों द्वारा कथित तौर पर उसके साथ बुरी तरह मारपीट की गई। राहुल कि पिटाई इतनी बुरी तरह से की गयी थी कि कि हमले में वह गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

क्या कहना है पुलिस का।

डीसीपी (नॉर्थ-वेस्ट) विजयंता आर्य के मुताबिक बुधवार 7 अक्टूबर को एक 18 वर्षीय छात्र को बेहोशी की हालत में बाबू जगजीवन राम मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां बाद में इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया था।

ये भी पढ़े : पुजारी हत्याकांड: गांव वालों ने पुजारी के दाह संस्कार से किया इनकार, 50 लाख मुआवजा और सरकारी नौकरी की मांग

3 किशोरों सहित 5 लोगों को किया गिरफ्तार।

डीसीपी के मुताबिक घायल युवक के शरीर पर कहीं भी चोट के निशान दिखाई नहीं दे रहे थे। मृतक के चाचा के एक बयान के आधार पर पुलिस ने इस संबंध में हत्या और संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर 3 किशोरों सहित 5 लोगों को पकड़ा है। मामले की जांच अभी जारी है। युवक के शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में डॉक्टरों ने स्पलीन टूटने को युवक की मौत का कारण बताया है।

ये सब हुए गिरफ्तार।

पुलिस के अनुसार, जिन लोगों ने राहुल पर हमला किया, उनमें लड़की का भाई मोहम्‍मद राज (20), एक रिश्‍तेदार मानवर हुसैन (20) और उसके तीन नाबालिग दोस्‍त शामिल हैं। तीनों फिलहाल पुलिस की हिरासत में हैं। राहुल के पिता संजय राजपूत के मुताबिक, एक दिन पहले लड़की ने राहुल से मुलाकात की थी। उन्‍होंने यह भी कहा कि लड़की राहुल का कोरोना टेस्‍ट कराने साथ में गई थी।

क्या कहना है परिवार का।

मृतक राहुल के चाचा अपने बयान में कहते है कि उनका भतीजा और युवती एक-दूसरे को करीब दो साल से जानते थे। उन्होंने कहा कि वे एक ही इलाके में रहते थे, लेकिन युवती के माता-पिता और विशेषकर उसके भाई इन दोनों की दोस्ती के खिलाफ थे।

राहुल के चाचा ने अपनी शिकायत में ये भी बताया कि बुधवार को, लगभग 7 बजे, मुझे मेरे दोस्त का फोन आया जिसने हमें बताया कि चार-पांच लोग मेरे भतीजे की पिटाई कर रहे हैं। जब मैं वहां पहुंचा, तो मैंने पाया कि मेरे भतीजे को युवती के भाइयों और उनके साथियों द्वारा बेरहमी से पीटा जा रहा था। उन्होंने उसे थप्पड़-लात और घूंसों से जमकर मारा। पीड़ित के चाचा ने यह भी आरोप लगाया कि आरोपी ने पहले भी उनके भतीजे को धमकी दी थी।

पहले भी दी थी जान से मारने की धमकी।

राहुल के चाचा का ये भी कहना है कि आरोपियों को राहुल (मृतक) का उनकी बहन से बात करना नागवार था। आरोपी पहले भी राहुल को धमकी दे चुके थे कि अगर राहुल लड़की से बात करना बंद नहीं करेगा तो वे उसे मार देंगे।

अब पुलिस का कहना है कि मामले की जांच चल रही है और परिवारों के बीच किसी भी तनाव से बचने के लिए इलाके में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 10 लाख के मुआवज़े का किया एलान।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram