Hindi Newsportal

दिल्ली में लॉकडाउन का दिखा असर, अब ICU और ऑक्सीजन बेड की कमी नहीं- अरविंद केजरीवाल

0 285

कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई को जीतने और वैक्सीन की कमी दूर करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केंद्र सरकार को एक महत्वपूर्ण सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन बनाने का काम केवल दो कंपनियां ना करें, बल्कि कई और कंपनियों को वैक्सीन बनाने के काम में लगाया जाए।

लॉक डाउन रहा सफल।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना के केस अब कम हो रहे हैं, आप सबके सहयोग से लॉकडाउन सफल रहा। हमने पिछले दिनों में ऑक्सीजन के बहुत बेड बढ़ाए हैं। अब दिल्ली में ICU और ऑक्सीजन बेड की कमी नहीं है।

वैक्सीन की कमी है बड़ी समस्या।

केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीन की रोज सवा लाख डोज लगा रहे हैं, हम जल्दी रोज 3 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाना शुरू कर देंगे। हमारा लक्ष्य आने वाले तीन महीने में सभी दिल्ली वालों को वैक्सीन लगाना है, लेकिन वैक्सीन की कमी की समस्या आ रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में हमारे पास अब कुछ दिन की वैक्सीन ​बची है और यह देशव्यापी समस्या है।

सिर्फ दो कंपनिया न बनाएं वैक्सीन

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने वैक्सीन संकट पर बात करते हुए कहा कि आज केवल दो कंपनियां वैक्सीन बना रही हैं और दोनों मिलकर महीने में केवल 6-7 करोड़ वैक्सीन बनाती हैं। इस तरह तो देश के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने में हमें दो साल से ज्यादा लग जाएंगे, तब तक कई लहरें आ चुकी होंगी। अब भारत में युद्ध स्तर पर टीके का निर्माण बढ़ाने की जरूरत है और अगले कुछ महीनों में सभी को टीका लगाए जाने की नीति तैयार की जानी चाहिए।

केजरीवाल ने कहा कि जब तक हर भारतीय को वैक्सीन नहीं लगती ये जंग नहीं जीती जा सकती। मैं आज एक सुझाव देना चाहता हूं। वैक्सीन बनाने का काम केवल दो कंपनियां ना करें, कई कंपनियों को वैक्सीन बनाने में लगाया जाए। केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों से वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला लेकर उन सभी कंपनियों को दे जो सुरक्षित तरीके से वैक्सीन बना सकती हैं। वैक्सीन का उत्पादन करने वाली कंपनियों के लाभ का एक अंश रॉयल्टी के रूप में उन दोनों कंपनियों को दे सकते हैं जिन्होंने मूल फॉर्मूले की खोज की है। केंद्र के पास इन कठिन समयों में ऐसा करने की शक्ति है।

दिल्लीवासियों के लिए खुशखबरी – ऑक्सीजन बेड्स की संख्या में वृद्धि।

आज राजधानी के मुख्यमंत्री ने दिल्लीवासियों को खुशखबरी देते हुए बताया कि पिछले कुछ दिनों में ऑक्सीजन बेड्स की संख्या में वृद्धि की है। कल, हमने जीटीबी अस्पताल के पास 500 नए आईसीयू बेड शुरू किए। अब, दिल्ली में आईसीयू और ऑक्सीजन बेड की कोई कमी नहीं है।

दिल्ली में कोरोना की रफ्तार में कमी।

इसके अलावा दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का भी कहना है कि दिल्ली में कोरोना के दूसरे लहर की पीक अब धीरे धीरे कम हो रही है। उन्होंने बताया की फिलहाल कोविड अस्पतालों में 3500 बेड खाली हैं।

दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट 36 से घटकर 19 फीसदी हुई- सत्येंद्र जैन।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट 36% से घटकर 19% के करीब आ गई है। उन्होंने बताया कि प्रतिदिन अधिकतम 28,000 करीब मामले गए थे, अब ये कम होकर 12,500 के पास आ गए हैं।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram