Hindi Newsportal

राजस्थान: मंदिर की जमीन के लिए कुछ दबंगों ने पुजारी को जलाया जिंदा, जयपुर में इलाज के दौरान मौत

In Image - Crime Scene
0 420

राजस्थान में मंदिर के जमीन विवाद में एक पुजारी के साथ बर्बरता की सारी हदें कुछ दबंगों ने पार कर दी। दरअसल यहाँ मंदिर के जमीन विवाद के चलते मंदिर के ही पंडित को ज़िंदा जलाकर मारने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। राजस्थान के खरौली जिले के बुकना गांव में मंदिर के जमीन विवाद में कुछ लोगों ने पुजारी को जिंदा आग के हवाले कर दिया। हालांकि, उस वक्त उनकी मौत नहीं हुई और गंभीर रूप से जख्मी पुजारी को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां गुरुवार रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

क्या है पुरा मामला ?

यह पूरा घटनाक्रम करौली के सपोटरा थाना इलाके की ग्राम पंचायत बुकना का है। यहां मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करता था और मंदिर माफी की जमीन पर भी उसी का कब्जा था। लेकिन इस जमीन को लेकर गांव के दबंग कैलाश मीणा की नजर थी। इसी जमीन पर कब्जा हथियाने के लिए आरोपी कैलाश मीणा ने पुजारी पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

ऐसे झुलसा पंडित।

इस घटना को लेकर सपोटरा थाना अधिकारी हरजी लाल यादव का कहना है कि ग्राम पंचायत बुकना के मंदिर पर 50 वर्षीय बाबूलाल वैष्णव पूजा करते थे जिसे लेकर गांव वालों ने उसे मंदिर माफी की जमीन बता रखी थी। कुछ दिन पहले पुजारी ने जमीन के ऊपर रिहाशी घर बनाने के लिए समतल कराई थी।

ये भी पढ़े : हॉरर-कॉमेडी का तड़का है अक्षय कुमार स्टारर फिल्म ‘लक्ष्मी बम’, यहाँ देखे ट्रेलर

पुजारी के घर बनाने से नाराज़ दबंगों ने मंदिर की ज़मीन पर जबरदस्ती छप्पर डालने शुरू कर दिये। इसपर पुजारी ने गांव वालों से शिकायत की। इसी बात को लेकर दबंगों ने जमीन पर पुजारी के सामान को पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी। बीच बचाव में आये पुजारी पर भी पेट्रोल डाल दिया गया। इस हादसे में पुजारी बाबूलाल बुरी तरह घायल हो गया जिसे सपोटरा अस्पताल लाया गया, जहां से चिकित्सकों ने अधिक घायल होने के कारण करौली रेफर कर दिया।

जब पुजारी के परिजन उसे करौली न ले जाकर जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल लेकर पहुंचे तब वहां ज़्यादा घाव के कारण अस्पताल में ही पुजारी ने दम तोड़ दिया। हालाकिं उसके पहले पुजारी ने पुलिस को अपना बयान दर्ज कर दिया।

पुलिस ने मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को किया गिरफ्तार।

फिलहाल, पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और आगे की छानबीन की जा रही है। पुलिस ने पुजारी के बयान के आधार पर मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार किया है। फिलहाल, अन्य आरोपी गिरफ्त से बाहर हैं। एफएसएल की टीम ने भी मौके पर पहुंचकर सबूत एकत्रित कर रही है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram