Hindi Newsportal

मुंबई में आज से शुरू हुई कुछ लोकल ट्रेन, सिर्फ आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग कर सकेंगे यात्रा

0 279

कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से ठप पड़ी मुंबई की लाइफ लाइन कही जाने वाली मुंबई लोकल आज शुरू हो गयी है, हलांकि शुरुआत में राज्य सरकार ने सिर्फ आवश्यक सेवाओं में जुटे कर्मचारियों को ही इसमें सफर करने की इजाजत दी है। पश्चिम रेलवे और सेंट्रल रेलवे ने फैसला किया है कि कुछ चुनिंदा रेल सेवाओं को दोबारा शुरू किया जाएगा। फिलहाल राज्य सरकार द्वारा चिन्हित स्टाफ को ही लोकल ट्रेन में सफर करने की इजाजत होगी सेंट्रल रेलवे की मेन और हार्बर दोनों लाइनों की सेवाएं शुरू की जाएंगी। गौरतलब है की पिछली 23 मार्च से बंद मुंबई  लोकल चलाने के लिए राज्य सरकार ने रेल मंत्रालय से मांग की थी, उसके बाद रेलवे ने राज्य सरकार के पास एसओपी ( स्टँडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर) का प्रस्ताव दिया.

सरकार से मंज़ूरी और दिशा निर्देश जारी करने के बाद आज सुबह पहली ट्रैन विरार से चर्चगटे के लिए रवाना हुई। ट्रेंस सुबह 5.30 से रात 11.30 तक हर 15 मिनट के अंतराल में चलेंगी। रेलवे के मुताबिक अधिकतर ट्रैन विरार से चर्चगटे के बीच में चलेंगी और साथ ही कुछ धानु रोड पर भी। रेलवे के अनुसार, आवश्यक सेवाओं में लगे लगभग 1.25 लोगों की  इन ट्रेनों में यात्रा करने की संभावना है। जिन लोगों के पास लोकल ट्रेनों में यात्रा करने के लिए सीज़न पास हैं, वे उनका उपयोग कर सकते हैं, भले ही उनकी अवधि समाप्त हो गई हो, क्योंकि लॉकडाउन के कारण जितने दिनों तक जनता लोकल ट्रैन का इस्तेमाल नहीं कर पायी है उतने ही दिनों तक उनके पास की वेद्यत्ता बढ़ा दी जाएगी।

मुंबई लोकल का इस्तेमाल करने जो लोग आएंगे उन्हें अपने पहचान पत्र दिखाने होंगे जो स्पष्ट रूप से साबित कर सकते हैं कि वे सरकार द्वारा परिभाषित आवश्यक सेवाओं के तहत आते हैं। साथ ही सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिए 1,200 यात्रियों को ले जाने वाली एक ट्रेन में केवल 700 यात्रा कर सकेंगे।  रेलवे ने राज्य सरकार को आदेश दिया है की राज्य सरकार के कर्मचारियों के समय को इस तरह निश्चित किया जाये की स्टेशनों पर कोई भीड़ न हो।

अधिकारियों के अनुसार, उपनगरीय ट्रेनों की ध्वनियों ने सुबह-सुबह मुंबईकरों का अभिवादन किया. सीआर और डब्ल्यूआर ने मिलकर 450 सेवाएं शुरू की हैं. डब्ल्यूआर के प्रवक्ता रविंद्र भाकर ने कहा, डब्ल्यूआर अपनी 12 कार उपनगरीय सेवाओं के 60 जोड़े चलाएगा, यानी कुल 120 सेवाएं चर्चगेट और दहानू रोड के बीच दोनों दिशाओं में चलेंगी।

ये भी पढ़े : आज से आनंद विहार से नहीं बल्कि पुरानी दिल्ली से चलेंगी ये ट्रेनें

वहीं सीआर के प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने कहा, सीआर अपनी मुख्य लाइन पर दोनों ओर 100 सेवाएं चलाएगा. यह सेवाएं छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस से ठाणे, कल्याण, कर्जत और कसारा के बीच और हार्बर लाइन के दोनों ओर 70 सेवाएं यानी छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस और पनवेल के बीच चलेंगी.

ये रहेंगी शर्तें

* अत्यावश्यक सेवा में लगे कर्मचारियों की सूची राज्य सरकार व बीएमसी को देनी है.

* रेलवे के वरिष्ठ सूत्रों के अनुसार रेलवे स्टेशनों पर टिकट खिड़की नहीं खुलेगी.

* सूची में शामिल लोगों का टिकट या पास सीधे सरकार को दिया जाएगा या क्यूआर कोड वाला आईकार्ड दिया जाएगा, जिसे स्कैन कर यात्रा कर सकेंगे.

* लोकल पॉइंट टू पॉइंट दौड़ेगी और मुख्य स्टेशनों पर ही रुकेगी.

* भीड़ कम करने के लिए राज्य सरकार को कार्यालय का समय परिवर्तित करना होगा.

आपको बता दे की बीते 24 घंटों में मुंबई में  कोरोना के 1395 नए मामले सामने आये है और 79 मौतें दर्ज की गयी है। भारत में महाराष्ट्र अब भी कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य है, यहां केसों की संख्या 1 लाख 4 हजार के पार पहुंच चुकी है, वहीं तमिलनाडु दूसरे और दिल्ली तीसरे नंबर पर है।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram