Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: कार में बैठे परिवार के साथ मारपीट करते कुछ लोगों का यह वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं, जानें पूरा सच

0 504

फैक्ट चेक: कार में बैठे परिवार के साथ मारपीट करते कुछ लोगों का यह वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं, जानें पूरा सच

सोशल मीडिया पर तेजी से शेयर किए जा रहे एक वीडियो में एक कार में बैठे एक परिवार के कुछ लोगों को अभद्रता व मारपीट करते हुए देखा जा सकता है। इसी वीडियो को इंटरनेट पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि लोकसभा चुनावों के बाद पश्चिम बंगाल में एक हिन्दू परिवार के साथ वहां के स्थानीय लोगों द्वारा इस तरह मारपीट की गयी।

फेसबुक पर वायरल वीडियो को शेयर कर हिंदी भाषा के कैप्शन में लिखा गया है कि “चुनाव के बाद बंगाल में क्या हो रहा है ,देखिए घबराइये मत ये आप के साथ भी होगा,आज नही तो कल । *चाहे आप SC ST OBC राजपूत हो बनिये हो ब्राह्मण कोई भी जाति के हो उनके लिए हिन्दू सनातनी हो बस यही काफी उनका और उनके एजेंट जो आपको जातियों में बांट रहे हैं आपको और आपके सनातन ध को कमजोर और उनको मजबूत कर रहे हैं आपको कच्चे लालच में डाल कर फैसला आपको लेना है अपनी बुद्धिमत्ता के अनुसार समय रहते फैसला लेंगे तो हम सब सुरक्षित हो सकतें हैं*”

 

फेसबुक के वायरल पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

फैक्ट चेक:

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल वीडियो पुराना है साथ ही यह पश्चिम बंगाल नहीं बल्कि किसी दूसरे देश का है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। सबसे पहले हमने ध्यान दिया कि वायरल वीडियो में लोग किसी अन्य भाषा में बोलते हुए सुनाई दे रहे थे, चूंकि सोशल मीडिया पर इस वीडियो के साथ दावा किया गया है कि उक्त वीडियो पश्चिम बंगाल में हुई घटना का है। इसलिए हमने पश्चिम बंगाल के अपने एक साथी की सहायता से वीडियो में बोली जा रही भाषा को समझने का प्रयास किया।

जिसके बाद हमारे साथी ने बताया कि वीडियो में बोली जाने वाली भाषा बंगाली ही है, लेकिन भाषा के बोले जाने का ढंग पश्चिम बंगाल का नहीं बल्कि पड़ोसी देश बांग्लादेश का है। इस जानकारी के आधार पर हमने खोजना शुरू किया। जिसके बाद हमने वायरल वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में तोड़ा और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया।

खोज के दौरान हमें वायरल वीडियो BVNews24.com नामक वेबसाइट पर वायरल वीडियो से मेल खाता एक कीफ्रेम मिला। जिसे फरवरी 08, 2024 को प्रकाशित किए गए लेख में अपलोड किया गया था। हालांकि वेबसाइट पर लेख बंगाली भाषा में ही लिखा गया था।

गूगल ट्रांसलेटर की सहायता से हमने भाषा को समझने का प्रयास किया। जिसके मुताबिक मैमनसिंह के भालुका में ग्रीन अरण्य पार्क घूमने गए एक परिवार पर पार्क के कर्मचारियों ने हमला कर दिया था।

लेख में बताया गया है कि पार्क के कर्मचारियों ने छोटे बच्चों सहित परिवार की महिला सदस्य के साथ भी मारपीट की। हमले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो इस मामले पर कार्रवाई हुई। जिसके बाद पीड़ित परिवार ने पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया।

इसके बाद खोज में हमें वीडियो वाली घटना का पूरा वीडियो Jago News नामक यूट्यूब चैनल पर मिला, जिसे 07, 2024 को अपलोड किया गया था।

यूट्यूब चैनल को खंगालने पर हमने जाना कि उक्त यूट्यूब चैनल बंगलादेश का है जो बांग्लादेश से संबंधित खबरों को प्रसारित करता है। इसके बाद वीडियो की सटीक जानकारी के लिए हमने अपने पश्चिम बंगाल के साथी की सहायता से वीडियो से संबंधित बंगाली भाषा के कुछ कीवर्ड्स को गूगल पर खोजना शुरू किया।

जिसके बाद हमें Jugnator.com नामक वेबसाइट पर वायरल वीडियो से संबंधित लेख मिला। जिसे फरवरी 07, 2024 को प्रकाशित किया गया था। लेख के मुताबिक वायरल वीडियो में जिस परिवार के साथ मारपीट की गई थी वह, व्यापारी शाहजहां का परिवार था जो 4 फरवरी को अपनी 4 साल की बेटी अफरा, पत्नी फातेमा अख्तर निशी, तीन बहनों हफीजा, जहुरा खातून के साथ हबीरबारी इलाके के ग्रीन फॉरेस्ट पार्क में गए थे। जहां उन्होंने पार्क की कुव्यवस्था को देखकर विरोध जताया था।

 

 

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं बल्कि लोकसभा चुनावों के पहले का है साथ ही इस वीडियो का भारत या भारतीय राज्य पश्चिम बंगाल से कोई संबंध नहीं है, असल में यह वीडियो पड़ोसी देश बंगलादेश का है।