Hindi Newsportal

इसरो ने PSLV-C49 से 10 उपग्रहों को सफलतापूर्वक किया लॉन्च

Image Credits - ISRO Twitter
0 259

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने आज एक बार फिर इतिहास रच दिया है। ISRO ने 10 उपग्रहों के साथ प्रक्षेपण यान PSLV-C-49 को लॉन्च कर दिया है जिसे दोपहर में 3.02 मिनट पर लॉन्च किया गया। PSLV-C49 देश के रडार इमेजिंग उपग्रह और 9 अन्य विदेशी उपग्रहों को लेकर रवाना हुआ।

बता दे वाहक को दोपहर 3.12 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से लॉन्च किया गया था। इससे पहले लॉन्च का समय 3.02 बजे था। लिफ्ट बंद होने के तुरंत बाद, EOS-01 और अन्य सभी नौ ग्राहक उपग्रह सफलतापूर्वक अलग हो गए और कक्षा में इंजेक्ट हो गए। गौरतलब है कि 2020 में इसरो द्वारा यह पहला मिशन है।

भारत का एक केवल एक सैटेलाइट और बाकी दुसरे देश के है उपग्रह।

इस सैटेलाइट की लॉन्चिंग के लिए श्री हरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर में शुक्रवार दोपहर को उल्टी गिनती शुरू हई थी। भारत का पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल अपने 51वें अभियान में अन्य देशों के नौ सैटेलाइटों के साथ भारत के पृथ्वी अवलोकन उपग्रह EOS-01 (Earth Observation Satellite EOS-01) को लेकर लॉन्च हुआ।

PSLV-C49 से जिन उपग्रहों को लॉन्च किया गया, उनमें भारत का एक, लिथुआनिया का एक, लक्जमबर्ग के चार और अमेरिका के चार सैटेलाइट हैं।

किसी भी समय और किसी भी मौसम में पृथ्वी पर नजर रख सकता है रडार।

ISRO के वैज्ञानिक आरसी कपूर ने कहा कि EOS-01 अर्थ ऑब्जरवेशन रिसेट सैटेलाइट का ही एक एडवांस्ड सीरीज है। इसमें सिंथेटिक अपर्चर रडार लगाया गया है जो किसी भी समय और किसी भी मौसम में पृथ्वी पर नजर रख सकता है।

इस सैटेलाइट की खासियत यह है कि बादलों के बीच भी पृथ्वी को देखा जा सकता है और स्पष्ट तस्वीरें ली जा सकती हैं। इस सैटेलाइट के जरिए हर समय देश की सीमाओं की निगरानी की जा सकेगी। खेती और आपदा प्रबंधन के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

पीएम मोदी ने भी दी बधाई।

Click here for Latest News updates and viral videos on our AI-powered smart news

For viral videos and Latest trends subscribe to NewsMobile YouTube Channel and Follow us on Instagram