Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: फिलीस्तीन में मौत का आंकड़ा बढ़ाने के लिए लोग कर रहे है नाटक? वायरल तस्वीर को गलत दावे के साथ किया जा रहा है शेयर

0 568

गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, 7 अक्टूबर को शुरू हुए इस्लामी आतंकवादी समूह हमास और इज़राइल के बीच संघर्ष के बाद 7,000 से अधिक फ़िलिस्तीनी मारे गए। इनसब के बीच सोशल मीडिया पे शरीर पर सफेद चादर लपेटे और हाथ में फोन लिए बैठे एक शख्स की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसे शेयर करते हुए ये दावा किया गया कि गाजा में लोग फिलीस्तीनियों की मौत का आंकड़ा बढ़ाने के लिए अपनी मौत का नाटक कर रहे हैं।

एक फेसबुक यूजर ने इसे शेयर करते हुए लिखा, “जब “गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय” आपको बताता है कि कितने लोग हताहत हुए हैं.”

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें

इसे फेसबुक और ट्विटर पर काफी शेयर किया गया।

फैक्ट चेक

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल दावा गलत है। दरअसल तस्वीर 2022 में थाईलैंड में एक हैलोवीन पार्टी की है।

वायरल तस्वीर के साथ शेयर हो रहे दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। सबसे पहले हमने गूगल पर वायरल तस्वीर को रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शरू किया। खोज के दौरान हमें ट्विटर पर जून 2023 पर एक ट्वीट मिली जिसमे कि वायरल इमेज को देखा जा सकता है। इससे ये साबित होता है कि वायरल इमेज अभी का नहीं है।

वायरल तस्वीर की पुष्टि के लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें ये तस्वीर हमे थाईलैंड स्थित समाचार ‘मॉर्निंग न्यूज’ के 29 अक्टूबर, 2022, के एक फेसबुक पोस्ट में मिली। कैप्शन में लिखा था, “इस हेलोवीन, मेरा मानना ​​है कि कई माता-पिता अपने बच्चों को प्यारे भूतों के रूप में तैयार करने में आनंद लेंगे। कुछ ही दिनों में हेलोवीन त्यौहार आने वाला है। हाल ही में एक और मां के पास बेहद क्रिएटिव आइडिया आया है. अपने बच्चे को थाई भूत के वेश में पकड़ें अगरबत्ती रखने वाले एक फ्रेम में रखें एक अन्य व्यक्ति कागज के ताबूत में सील से बंधा एक भूत है, जो नाखोन रत्चासिमा प्रांत के एक प्रसिद्ध डिपार्टमेंट स्टोर में एक कार्यक्रम में प्रतिस्पर्धा कर रहा है।” इन तस्वीरों का श्रेय ‘सुरत्तन सवाडकिट’ नाम के यूजर को दिया गया था।

इसके बाद हमने सुरत्तन सवाडकिट का फेसबुक प्रोफाइल मिला जिसमे उन्होंने वायरल इमेज को 29 अक्टूबर 2022 को शेयर किया था। एक फेसबुक पोस्ट में उन्होंने हेलोवीन वेशभूषा में अपने बच्चों की चार तस्वीरें साझा कीं जिसमे वायरल छवि भी शामिल है। पोस्ट में थाई भाषा में हैलोवीन और सेंट्रल कोराट जैसे हैशटैग लिखे गए थे। सेंट्रल कोराट थाईलैंड में एक मॉल है।

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमें पता चला कि वायरल तस्वीर हालिया दिनों नहीं। इसके साथ ही थाईलैंड में एक हैलोवीन पार्टी की है। इसका इजरायल-फलस्तीन के बीच चल रहे युद्ध से कोई लेना देना नहीं है।