Hindi Newsportal

जूनागढ़ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को किया संबोधित, CAA और 370 पर विपक्ष को घेरा

0 172

जूनागढ़, गुजरात: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जूनागढ़ में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “ये चुनाव सामान्य चुनाव नहीं है… मेरे लिए व्यक्तिगत रूप से ये चुनाव एंबिशन के लिए नहीं है. वो एंबिशन तो 2014 में देश की जनता ने पूरा कर दिया. 2024 का ये चुनाव मोदी के एंबिशन के लिए नहीं, मोदी के लिए ‘मिशन’ है और मेरा मिशन है देश के उज्जवल भविष्य का, मेरा मिशन है देश को आगे ले जाना.

 

वहीं पीएम ने जनसभा में विपक्ष पर कई सवाल उढ़ाए साथ ही आरोप लगाते हुए कहा, कांग्रेस का एजेंडा क्या है? कांग्रेस कह रही है कि कश्मीर में जो मैंने आर्टिकल 370 खत्म कर दिया, वो कहते हैं कि 370 हम फिर से लागू करेंगे. इस देश में जो लोग आज संविधान माथे पर रख कर नाच रहे हैं न, उनकी सर्वसत्ता थी, पार्लियामेंट में उनका राज था, कश्मीर में भी उनकी सरकार थी, लेकिन वे कभी भी देश का संविधान सभी जगहों पर लागू नहीं कर पाए. मोदी के आने तक देश में दो संविधान थे. एक संविधान से देश चलता था और दूसरे संविधान से जम्मू-कश्मीर चलता था…”

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने CAA और 370 पर विपक्ष को घेरा

जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने आगे कहा, “कांग्रेस का दूसरा एजेंडा, CAA, जो लोग हमारे पड़ोस के देशों में हिंदू हैं, जो भारत माँ की संतान हैं, उनका एक ही गुनाह है कि वो हिंदू धर्म, जैन धर्म, बौध धर्म, ईसाई धर्म और पारसी धर्म का पालन करते हैं इसलिए वहां से उन्हें भगा दिया जाता है… मैंने उन्हें मताधिकार देने का कानून बनाया. वे कहते हैं कि हम उसे खत्म करेंगे… मैं कांग्रेस और उनके सारे चट्टे-बट्टों को चुनौती देता हूं. आप देश में न फिर से 370 ला पाओगे, न CAA हटा पाओगे… मैंने तीन तलाक पर कानूनी रूप से प्रतिबंध लगा दिया ताकी मेरे देश की मुसलमान बेटियों को सम्मान से जीने का हक मिले… मैं कांग्रेस को चुनौती देता हूं, शहजादे को चुनौती देता हूं, हिम्मत है तो खुलकर कहिए कि दोबारा तीन तलाक की मुक्ति दे देंगे… मोदी है मुकाबला नहीं कर पाओगे.”

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, “500 साल के बाद भगवान राम का मंदिर बन रहा था. आजादी के 75 साल बाद भी उन्होंने(कांग्रेस) रोड़े अटकाने की कोशिश की, अदालतों में भी रोड़े अटकाए. लेकिन ये मेरा सौभाग्य और आपका आशीर्वाद है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर बन गया लेकिन जब उसकी प्राण-प्रतिष्ठा का निमंत्रण उन्हें दिया तो उन्होंने उसे भी ठुकरा दिया… कांग्रेस ने ये निमंत्रण ठुकरा दिया, वजह भी अब खुलकर बता दी. कांग्रेस ने कहा है, उनके अध्यक्ष ने कहा है कि उनका मकसद भगवान राम को हराना है… ये बयान कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया है… कांग्रेस पार्टी लोकतंत्र का चुनाव नहीं लड़ रही है, कांग्रेस ने ये चुनाव भगवान राम के खिलाफ बना दिया है. मैं इनसे पूछना चाहता हूं कि बताइए आप भगवान राम को हराकर किसे जिताना चाहते हैं?…”