Hindi Newsportal

MCD को मिला पहला ट्रांसजेंडर पार्षद, बॉबी किन्नर ने मारी बाजी

0 302

नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम (MCD) चुनाव में आप की सबसे चर्चित उम्मीदवार बॉबी किन्नर ने जीत हासिल कर ली है. सुल्तानपुरी वार्ड से चुनाव लड़ीं आप उम्मीदवार बॉबी किन्नर दिल्ली नगर निगम की पहली ट्रांसजेंडर सदस्य होंगी.

 

यह पहला मौका है जब किसी पार्टी ने किसी ट्रांसजेंडर को टिकट दिया है. बोबी ने कांग्रेस प्रत्याशी वरुणा ढाका को 6714 वोटों से हराया था. उन्हें 14821 वोट मिले जबकि ढाका को 8107 वोट मिले.

 

38 वर्षीय बॉबी का जन्म और पालन-पोषण सुल्तानपुरी में हुआ था. बोबी को 14 साल की उम्र में ट्रांसजेंडर समुदाय ने गोद ले लिया था और फिर वह वेडिंग डांसर बन गईं. बोबी ‘हिंदू युवा समाज एकता अवाम आतंकवाद विरोधी समिति’ की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष हैं. वह पिछले 15 सालों से संस्था से जुड़ी हुई हैं.

 

देश की राजधानी दिल्ली में नगर निगम चुनाव के परिणामों के लिए आज 250 वार्डों पर वोट की गिनती समाप्त हो गई है. MCD चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 134 सीटें जीतीं, वहीं भाजपा ने 104, कांग्रेस ने 9 और निर्दलीय ने 3 सीटें जीतीं.

 

MCD चुनाव परिणाम से जुड़ी कुछ अहम बातें:

 

  • AAP ने 126 सीटों के साथ बहुमत का आंकड़ा पार किया. जिसके मद्देनज़र आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रयागराज में जश्न मनाया.
  • देश की राजधानी दिल्ली में नगर निगम चुनाव  के परिणामों के लिए आज 250 वार्डों पर वोट की गिनती चल रही है. ब तक के नतीजों के मुताबिक दिल्ली नगर निगम चुनाव में AAP ने 106 सीटों पर जीत हासिल की है और 26 पर आगे चल रही है, वहीं बीजेपी ने 84 सीटों पर जीत हासिल की है और 20 सीटों पर आगे चल रही है. कांग्रेस ने 5 सीटें जीती और 5 पर आगे हैं और निर्दलीय उम्मीदवार ने 1 जीत दर्ज़ की, 3 पर आगे हैं.
  • बीजेपी को दिल्ली की जनता से करारा जवाब मिला. जनता ने उसी को वोट दिया है जो विकास के लिए काम करे. आज दिल्ली ने उस ‘कीचर’ का सफाया कर दिया है, जिसे बीजेपी ने अरविंद केजरीवाल पर फेंकने की कोशिश की थी. हम दिल्ली को दुनिया के सबसे खूबसूरत शहर में बदल देंगे: आप सांसद राघव चड्ढा
  • पंजाब सीएम भगवंत मान ने कहा, अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में 15 साल लंबे कांग्रेस शासन और अब एमसीडी में 15 साल लंबे (भाजपा) शासन को उखाड़ फेंका. इससे पता चलता है कि दिल्ली के लोगों को नफरत की राजनीति पसंद नहीं है, वे स्कूलों, अस्पतालों, बिजली, सफाई और बुनियादी ढांचे के लिए वोट करते हैं.
  • AAP ने 106 सीटों पर जीत हासिल की है और 26 पर आगे चल रही है, वहीं बीजेपी ने 84 सीटों पर जीत हासिल की है और 20 सीटों पर आगे चल रही है.
  • कांग्रेस ने 5 सीटें जीती और 5 पर आगे हैं और निर्दलीय उम्मीदवार ने 1 जीत दर्ज़ की, 3 पर आगे हैं.