Hindi Newsportal

योगी द्वारा ओवैसी को डांटे जाने का यह वीडियो एडिटेड है, जाने पूरा सच

0 9,192

योगी द्वारा ओवैसी को डांटे जाने का यह वीडियो एडिटेड है, जाने पूरा सच

सोशल मीडिया पर संसदीय कार्यवाही के दौरान का एक वीडियो वायरल हो रहा है, वीडियो सीएम योगी आदित्यनाथ और AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी के संदर्भ में शेयर हो रहा है। वीडियो में संसदीय कार्यवाही के दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ओवैसी से ऊंची आवाज में बैठ जाने के लिए बोलते हैं, तत्पश्चात वीडियो में असदुद्दीन ओवैसी को चुप होकर अपनी कुर्सी में बैठते हुए देखा जा सकता है। इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा सीएम योगी ने असदुद्दीन ओवैसी को ऊंची आवाज़ में डांटा और ओवैसी डर कर चुपचाप अपनी कुर्सी पर बैठ गए।

फेसबुक पर इसी वायरल वीडियो को अलग अलग कैप्शन के साथ शेयर किया जा रहा है।

 

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

 

फैक्ट चेक:

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से पता चला कि वायरल क्लिप एडिटेड है।

इंटरनेट पर वायरल हो रही इस वीडियो क्लिप की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। पड़ताल के दौरान हमने सबसे पहले वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में बांटा और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज टूल की मदद से खोजना शुरू किया। लेकिन इस दौरान हमें वायरल वीडियो के संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली।

वायरल वीडियो क्लिप की जानकारी एकत्रित करने के हमने क्लिप के ऑडियो पर गौर किया और जाना कि योगी आदित्यनाथ किस विषय पर बात कर रहे हैं। इसके बाद हमने गूगल पर कीफ्रेम्स के साथ ही साथ कुछ संबंधित कीवर्ड्स की सहायता से खोजा।

खोज के दौरान हमें भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर सीएम योगी आदित्यनाथ की वायरल क्लिप का पूरा वीडियो प्राप्त हुआ। बता दें यूट्यूब पर इस वीडियो को अगस्त 14, 2014 में पोस्ट किया गया था।

यूट्यूब पर 23 मिनट 11 सेकंड के इस वीडियो में सीएम योगी की वायरल क्लिप को 10 मिनट 16 सेकंड पर देखा जा सकता है। इस दौरान हमने गौर किया कि योगी आदित्यनाथ गुरुदेव रबीन्द्र नाथ टैगोर के बारे में कुछ बोल रहे थे कि उनके बयान के बीच संसद के किसी महिला सदस्य चिल्लाने की आवाज आयी जिसपर योगी आदित्यनाथ ने डांट कहा कि ‘बैठ जाईये आप‘। बता दें वायरल वीडियो में योगी आदित्यनाथ द्वारा बोले गए ‘बैठ जाईये आप‘ वाले बयान के तुरंत बाद ही AIMIM नेता ओवैसी को बैठते हुए देखा जा सकता था, लेकिन यूट्यूब पर प्राप्त वीडियो में ऐसा कुछ भी नजर नहीं आया।

इसके बाद हमने पाया कि वीडियो के 13 मिनट 16 सेकंड पर ओवैसी वीडियो खड़े होते हैं और योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए किसी आंकड़ों को गलत बताते हैं। इसके बाद, संसद के स्पीकर द्वारा कहे जाने पर वह वीडियो के 14 मिनट 5वें सेकंड पर उसी अवस्था में बैठते हुए दिखाई दिए जैसे कि वायरल वीडियो में वह बैठते हुए दिख रहे हैं।

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से ये साफ हो गया कि ओरिजिनल वीडियो के कुछ मिनट को तोड़मरोड़ कर एडिट किया गया है और वायरल वीडियो को बनाया गया है। वायरल वीडियो एडिटेड है।