Hindi Newsportal

World Cup 2023: सभी 10 टीमों के लिए सेमीफाइनल क्वालीफिकेशन का समिकरण यहां समझें

0 285

World Cup 2023: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2023 अब अपने अहम मोड़ पर पहुंच गया है, जहां टीमों के पास सेमीफाइनल में जगह पक्की करने के महज कुछ ही मुकाबले बचे हुए हैं. बता दें कि अबतक भारतीय टीम इस स्टेज पर अजेय रही है. भारतीय टीम ने अबतक कुल 6 मैच में 6 मैच जीतकर प्वाइंट टेबल पर पहले दो नम्बर हासिल कर रखे हैं. (बीते दिन 7वें मैच में जीत दर्ज कर दक्षिण अफ्रीका पहले पायदान पर पहुंच गई है)

 

बता दें कि अब भी कुछ टीम ऐसी हैं जो सेमीफाइनल में जगह बनाने की दौड़ में हैं. जिसमें इंग्लैंड और बांग्लादेश ऐसी टीम है जो इस वर्ल्ड कप से बाहर हो गई हैं. मेजबान देश भारत विश्व कप 2023 के सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए शीर्ष स्थान पर है. 1 नवंबर को हुए न्यूजिलैंड के खिलाफ मुकाबले में जीत दर्ज कर साउथ अफ्रीका पहले पायदान पर पहुंच गई है अब दूसरे नंबर पर भारत है. तीसरे नंबर पर न्यूजीलैंड और चौथे नंबर पर ऑस्ट्रेलियाई टीम है.

 

बता दें कि भले ही ये 4 टीमें इस समय सेमीफाइनल की रेस में सबसे आगे हैं और लगभग तय मानी जा रही है लेकिन बाकी दूसरी टीमें अभी भी नॉकआउट में जगह बनाने की दौड़ में शामिल है.

 

भारत

भारत के वर्तमान में इस विश्व कप में 6 मुकाबलों में कुल 12 अंक हैं, विश्व कप 2023 में सेमीफाइनल में जगह पक्की करने के लिए भारत को केवल एक और अंक की आवश्यकता है. उनके अंतिम तीन मैचों में से किसी एक में जीत या टाई या कोई परिणाम नहीं होना उनकी प्रगति सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त होगा.

 

दक्षिण अफ्रीका

टेम्बा बावुमा की अगुवाई वाली दक्षिण अफ्रीकी टीम इस साल बहुत अच्छा प्रदर्शन कर सबकी नजरों में छा गई है. वहीं दक्षिण अफ्रीका को सेमीफाइनल में जगह पक्की करने के लिए तीन और अंकों की जरूरत है. बीते दिन 7वें मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीत दर्ज कर दक्षिण अफ्रीका पहले पायदान पर पहुंच गई है. हालाँकि, SA को अगले मुकाबले भारत और अफगानिस्तान से खेलने हैं.

 

न्यूज़ीलैंड

न्यूजीलैंड ने टूर्नामेंट में चार जीत के साथ शुरुआत की लेकिन उसके बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया से हार गई. ब्लैककैप्स को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए अपने शेष तीन मैचों में से कम से कम दो मुकाबले जीतना आवश्यक हैं.

न्यूजीलैंड का अगला मुकाबला 1 नवंबर को पुणे में दक्षिण अफ्रीका से हुआ जहां उसे हार का सामना करना पड़ा. वहीं अब ब्लैककैप्स को साउथ अफ्रीका से मिली हार के बाद भी अपने अन्य दो मैचों में श्रीलंका और पाकिस्तान को हराकर सेमीफाइनल में पहुंच सकती है, जिससे उन दो टीमों के लिए क्वालीफिकेशन की उम्मीदों पर भी असर पड़ेगा.

 

ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया का यह साल बेहद कठिन रहा. कंगारू अपने प्रतिद्वंद्वियों न्यूजीलैंड जैसी ही स्थिति में है. पैट कमिंस एंड कंपनी को आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2023 सेमीफाइनल में जगह बनाने की संभावना मजबूत करने के लिए तीन मैचों में दो जीत की जरूरत है.

पांच बार के एकदिवसीय विश्व कप विजेता का अगला मुकाबला मौजूदा चैंपियन इंग्लैंड से होगा. यदि AUS यह मुकाबला हार जाती है तो भी इसके बाद अफगानिस्तान और बांग्लादेश के खिलाफ जीत के साथ आगे बढ़ सकता है.

 

पाकिस्तान

इस साल का विश्व कप पाकिस्तान के लिए रोलर कोस्टर की तरह चल रहा हैं. पाकिस्तान की सेमीफाइनल की राह खुद पाकिस्तान की महन और उम्मीदों पर टिकी है.

बाबर आज़म की अगुवाई वाली टीम ने अपने अभियान को जीवित रखने के लिए बांग्लादेश को हरा दिया, लेकिन उसे अपने शेष दो मैचों में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ भी जीत की जरूरत है, साथ ही यह भी उम्मीद है कि मौजूदा शीर्ष चार टीमें – भारत, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका – हार जाएं. जिसके चलते पाक को उनके बचे हुए मैचों में क्वालिफाई करने का मौका मिलेगा.

 

अफ़ग़ानिस्तान

अफगानिस्तान ने अपने खेल से हर क्रिकेट प्रेमी का दिल जीत लिया. अफगानिस्तान ने कमाल का प्रदर्शन दिखाते हुए 30 अक्टूबर को श्रीलंका को सात विकेट से हराकर पहली बार विश्व कप सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी संभावनाएं मजबूत कर लीं. नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका को हराने पर अफगानिस्तान ने 12 अंक हासिल कर सकते हैं. जिसके चलते वह सेमिफाइनल में अपनी दावेदारी पेश कर सकते हैं.

 

श्रीलंका

1996 विश्व कप चैंपियन श्रीलंका भी गणितीय रूप से इस संस्करण में सेमीफाइनल क्वालीफिकेशन से बाहर नहीं है. उनके पास फिलहाल चार अंक हैं और अभी तीन मैच बाकी हैं, लंकावासी अधिकतम 10 अंक हासिल कर सकते हैं.

सबसे पहले, श्रीलंका को अपने शेष सभी तीन मैच जीतने होंगे, जिसमें मौजूदा शीर्ष चार टीमों में से दो, भारत और न्यूजीलैंड को हराना शामिल है. श्रीलंका को भी अपने से ऊपर की पांच टीमों में से कम से कम दो की जरूरत होगी, जिनके 10 से अधिक अंक न हों. उन्हें यह भी उम्मीद करनी होगी कि वे टीमें उनकी तुलना में कम नेट रन रेट के साथ समाप्त हों.

 

नीदरलैंड

नीदरलैंड के लिए यह विश्व कप काफी अच्छा रहा. नीदरलैंड के अभी चार अंक हैं और अभी भी नीदरलैंड के तीन मैच बाकी हैं, जिसमें उसका मुकाबला अफगानिस्तान, इंग्लैंड और भारत से होगा. उन्हें अपने पहले विश्व कप सेमीफाइनल में जगह बनाने का मौका पाने के लिए सभी तीन गेम बड़े अंतर से जीतने की जरूरत है.

साथ ही, वे यह भी उम्मीद करेंगे कि तीन से अधिक टीमें ग्रुप चरण को 10 अंक या उससे अधिक के साथ समाप्त न करें क्योंकि नीदरलैंड स्वयं अधिकतम 10 अंक प्राप्त कर सकता है.