Hindi Newsportal

“स्वाति मालीवाल वाला मामला एक शाजिस, बीजेपी ने 13 मई की सुबह स्वाति मालीवाल को सीएम केजरीवाल के भेजा घर”- आप मंत्री आतिशी 

0 711

“स्वाति मालीवाल वाला मामला एक शाजिस, बीजेपी ने 13 मई की सुबह स्वाति मालीवाल को सीएम केजरीवाल के भेजा घर”- आप मंत्री आतिशी 

आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल वाले मामले में आज आम आदमी पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रतिक्रिया दी है। इस दौरान आप नेता व दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने इस मामले को भाजपा द्वारा की गयी एक शाजिस बताया।

आप मंत्री आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मामले पर कहा कि जब से अरविंद केजरीवाल को जमानत मिली है, तब से बीजेपी बौखलाई हुई है। इसी बौखलाट के तहत बीजेपी ने एक साजिश रची, जिसके तहत 13 मई की सुबह स्वाति मालीवाल को अरविंद केजरीवाल के घर भेजा गया। स्वाति मालीवाल इस साजिश का चेहरा और मोहरा थीं।

उन्होंने कहा कि “उनका इरादा सीएम पर आरोप लगाने का था लेकिन सीएम उस वक्त वहां नहीं थे इसलिए वह बचा गए। इसके बाद स्वाति मालीवाल ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उनके साथ मारपीट की गई। आज जो वीडियो सामने आया है उसमें वह सीएम आवास के ड्राइंग रूम में आराम से बैठी हुई हैं और पुलिस अधिकारियों को धमकी दे रही हैं। वीडियो में वह विभव कुमार को भी धमकी देती नजर आ रही हैं। वीडियो में न तो उनके कपड़े फटे हैं और न ही उनके सिर पर कोई चोट नजर आ रही है …”

आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल जी का उस दिन कोई अप्वाइंटमेंट नहीं था। उन्होंने पुलिस से झगड़ा कर उनकी नौकरी लेने तक की धमकी दी। इसके बाद वह धक्का देते हुए वह वेटिंग रूम में चली गईं। कुछ देर बैठने के बाद वह मेन बिल्डिंग में घुसकर सोफे पर बैठ गईं। उन्होंने धमकाया कि सीएम को अभी बुलाओ, मुझे अभी बात करनी है।

उन्होंने कहा कि स्वाति मालीवाल जी बीजेपी के इशारे पर काम कर रही थी। यही कारण है कि वह जबरदस्ती सीएम से मिलने की कोशिश की। इसलिए वह सुबह-सुबह सीएम ऑफिस पहुंची हैं। तीन बाद वह एफआईआर कराईं।

 

स्वाति मालीवाल ने भी ट्वीट कर दिया जवाब 

AAP की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने ट्वीट किया, “पार्टी में कल के आए नेताओं से 20 साल पुरानी कार्यकर्ता को BJP का एजेंट बता दिया। दो दिन पहले पार्टी ने PC में सब सच क़बूल लिया था और आज U-Turn ये गुंडा पार्टी को धमका रहा है, मैं अरेस्ट हुआ तो सारे राज़ खोलूँगा। इसलिए ही लखनऊ से लेकर हर जगह शरण में घूम रहा है। आज उसके दबाव में पार्टी ने हार मान ली और एक गुंडे को बचाने के लिए पूरी पार्टी से मेरे चरित्र पर सवाल उठाए गए। कोई बात नहीं, पूरे देश की महिलाओं के लिए अकेले ही लड़ती आई हूँ, अपने लिए भी लड़ूँगी। जमकर करैक्टर असैसीनैशन करो, वक़्त आने पर सब सच सामने आएगा।”