Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: संविधान को लेकर पीएम मोदी द्वारा दिया गया यह बयान भ्रामक दावे के साथ किया जा रहा है वायरल, जानें पूरा सच

0 371

फैक्ट चेक: संविधान को लेकर पीएम मोदी द्वारा दिया गया यह बयान भ्रामक दावे के साथ किया जा रहा है वायरल, जानें पूरा सच

 

सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषाण का एक वीडियो तेजी से वायरल किया जा रहा है। वीडियो में भाषण के दौरान पीएम मोदी को यह कहते हुए सुना जा सकता हैं कि “जहाँ तक सविधान का सवाल है, आप मान कर चलिए और ये मोदी के शब्द लिख कर रखिये, बाबा साहेब आंबेडकर खुद आजाए तो भी सविधान खत्म नहीं सकते हैं” यह मोदी का वादा। पीएम मोदी के भाषण के इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि प्रधानमंत्री अब पुराने संविधान को बदलकर मनुस्मृति वाला संविधान बनाने वाले हैं, जिसे स्वयं बाबा साहब अम्बेडकर भी आकर खत्म नहीं कर सकते हैं।

फेसबुक पर वायरल वीडियो शेयर कर हिंदी भाषा के कैप्शन में लिखा रहे हैं कि “मैं पुराने संविधान को बदलकर मनुस्मृति वाला संविधान बनाऊंगा जिसे स्वयं बाबा साहब अम्बेडकर भी आकर खत्म नहीं कर सकते है।” क्या घमंडी नरेंद्र मोदी यह कहना चाहता है?

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

 

फैक्ट चेक:

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल वीडियो आधा अधूरा है साथ ही उसे भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

 

दरअसल, विपक्ष कई बार अपने चुनावी भाषणों में केंद्र की भाजपा शासित सरकार पर संविधान बदलने का आरोप लगता रहता था। जिसे भाजपा कई बार ख़ारिज कर चुकी है। इसलिए पीएम मोदी के इस वायरल वीडियो व साथ में शेयर किए जा रहे दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। पड़ताल के दौरान हमने सबसे पहले यह पता लगाने का प्रयास किया कि वायरल वीडियो असल में कहा का हैं। इसलिए रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से हमने वीडियो के एक कीफ्रेम गूगल पर सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल वीडियो से मेल खाता एक की कीफ्रेम zee news  की वेबसाइट पर अप्रैल 12, 2024 को प्रकाशित एक लेख में मिला।

 

लेख के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वायरल वीडियो में राजस्थान के बाड़मेर में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। हालांकि लेख में वायरल वीडियो वाले बयान का कोई जिक्र नहीं था। इसलिए वायरल वीडियो की सटीक जानकारी के लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें ANI के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर वायरल वीडियो क्लिप का पूरा वीडियो मिला।

यहाँ हमने पीएम मोदी के भाषण का वीडियो देखने पर हमने जाना कि उन्होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बाबा साहेब का अपमान किया। उन्हें भारत रत्न नहीं मिलने दिया और बाबा साहेब को चुनाव हरवाया। पीएम मोदी ने कहा कि बाबा साहेब और सविधान का अपमान करने वाले कांग्रेस पार्टी से देश की जनता को सावधान रहना चाहिए।

वीडियो के 2 घंटे 40 मिनट के बाद पीएम मोदी ने कहा कि “जहाँ तक हाँ तक सविधान का सवाल है, आप मान कर चलिए और ये मोदी के शब्द लिख कर रखिये, बाबा साहेब आंबेडकर खुद आजाए तो भी सविधान खत्म नहीं सकते हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमारा संविधान हमारे लिए गीता है, रामायण है, बाइबिल है, कुरान है, ये सब कुछ हमारे लिए हमारा संविधान है।”  इसके बाद पीएम मोदी ने कांग्रेस और विपक्ष के मेनिफेस्टो की आलोचना की हैं।”

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहीं भी मनुस्मृति का जिक्र नहीं किया। इसके बाद पुष्टि के लिए हमने यूट्यूब पर NarendraModi के आधिकारिक यूट्यूब चैनल को भी खंगाला। जहां अप्रैल 12, 2024 को अपलोड हुए एक यूट्यूब वीडियो में हमें वायरल वीडियो क्लिप मिली। यहाँ भी देखा जा सकता है कि पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान संविधान को बलदलने की बात नहीं कही। साथ ही उन्होंने अपने पूरे भाषण में कहीं भी मनुस्मृति का जिक्र नहीं किया।

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल वीडियो क्लिप अधूरा है साथ ही वह सोशल मीडिया पर भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।