Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: राजस्थान में कांग्रेस की रैली में नहीं लहराया गया पाकिस्तान का झंडा, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ पांच साल पुराना वीडियो

0 1,020
फैक्ट चेक: राजस्थान में कांग्रेस की रैली में नहीं लहराया गया पाकिस्तान का झंडा, भ्रामक दावे के साथ वायरल हुआ पांच साल पुराना वीडियो

 

सोशल मीडिया पर कांग्रेस की एक रैली का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में गौर किया जा सकता है कि कांग्रेस की रैली में कांग्रेस के झंडे के साथ-साथ एक हरे रंग का झंडा भी लहराते हुए देखा जा सकता है। सोशल मीडिया पर इसी वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो राजस्थान का है जहां कांग्रेस की रैली के दौरान पाकिस्तान का झंडा भी लहराया जा रहा है।

फेसबुक पर वायरल वीडियो शेयर कर हिंदी भाषा के कैप्शन में लिखा गया है कि ‘राजस्थान में पाकिस्तान के झंडे लेकर प्रचार करते हुए देख लो कांग्रेस राजस्थान को पाकिस्तान बनाना चाहती है’

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

 

फैक्ट चेक:  

 

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं साथ वीडियो में दिख रहा हरा झंडा पाकिस्तान का नहीं है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल की। इस दौरान हमने वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में तोड़ा और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शुरू कर दिया। खोज के दौरान हमें वायरल वीडियो ‘एक्स’ पर नरेंद्र सिंह तोमर नामक यूजर के एक पोस्ट में मिला, जिसे दिसंबर 13, 2018 को अपलोड किया गया था।

हालांकि यहाँ भी वायरल वीडियो को उसी दावे के साथ शेयर किया गया है,जो हाल ही में किया जा रहा है। इसलिए इस बात का सच जानने के लिए हमने वायरल वीडियो वाले झंडे और पाकिस्तानी झंडे की आपस में तुलना की। इस दौरान हमने दोनों झंडों में कई असमानताएं पाई। जैसे पाकिस्तानी झंडे में एक साइड में ही सफ़ेद रंग की एक सीधी पट्टी दिखाई दे रही है, लेकिन वायरल वीडियो वाले झंडे में सफ़ेद रंग की पट्टी एक नहीं बल्कि दो मोटी और एक पतली सफ़ेद रंग की पट्टी दिखाई दे रही है। साथ ही वायरल वीडियो वाले झंडे में कोई सीधी पट्टी नहीं है।

इसके बाद मामले की तह तक जाने के लिए हमने गूगल पर और बारीकी से खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें वायरल वीडियो को लेकर साल 2018 में राजस्थान पुलिस द्वारा किया गया एक ट्वीट भी मिला। जहां पुलिस ने साफ़ तौर से बताया है कि कांग्रेस की रैली में पाकिस्तानी झंडा नहीं लहरा रहा है। वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर किया गया था।

पड़ताल के दौरान हमें मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं बल्कि साल 2018 के दौरान का साथ ही वीडियो वीडियो के साथ किया गया दावा गलत है। कांग्रेस की रैली में पाकिस्तानी झंडा नहीं लहराया गया था। राजस्थान पुलिस ने भी वायरल दावे को गलत बताया था।