Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: मंदिर में दिख रहे कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद की यह तस्वीर हालिया दिनों की नहीं, पढ़ें पूरा खबर

0 486
फैक्ट चेक: मंदिर में दिख रहे कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद की यह तस्वीर हालिया दिनों की नहीं, पढ़ें पूरा खबर

 

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। तस्वीर कांग्रेस प्रत्याशी इमरान मसूद की है, जहां वह एक मंदिर में दर्शन कर एक लाल चुनरी ओढ़े हुए दिखाई दे रहे हैं। इसी तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि सहारनपुर से कांग्रेस-सपा गठबंधन प्रत्याशी इमरान मसूद ने इसी सप्ताह देवबंद में सिद्धिपीठ त्रिपुर बाला सुंदरी देवी के दर्शन किए।

फेसबुक पर वायरल वीडियो शेयर कर हिंदी भाषा के कैप्शन में लिखा गया कि “सहारनपुर से कांग्रेस-सपा गठबंधन प्रत्याशी इमरान मसूद ने आज देवबंद में सिद्धपीठ त्रिपुर बाला सुंदरी देवी के दर्शन किए। बजरंगदल को इस पर आपत्ति है। कहा है कि गैर हिन्दू को मंदिर में एंट्री न दी जाए”

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

फैक्ट चेक:

न्यूज़ मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल तस्वीर हालिया दिनों की नहीं बल्कि साल 2023 के दौरान की है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह तस्वीर हमें देखने में पुरानी लगी। इसलिए सच्चाई जानने के लिए हमने पड़ताल की। इस दौरान हमने सबसे पहले तस्वीर को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें ऐसे उचित परिणाम नहीं मिले जिससे यह साफ किया जा सके कि वायरल तस्वीर कब की है।

इसके बाद सच्चाई जानने के लिए हमने कांग्रेस के प्रत्याशी इमरान मसूद के सोशल मीडिया हैंडल्स को खंगालना शुरू किया। इसके बाद हमें वायरल तस्वीर उनके फेसबुक अकॉउंट द्वारा दिसंबर 12, 2023 को अपलोड किए गए एक पोस्ट में मिली।

फेसबुक के पोस्ट लिंक यहाँ देखें।

 

बता दें कि सपा-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी इमरान मसूद की इसी तस्वीर को कई मीडिया संस्थानों ने हाल का बताते हुए भी शेयर किया है। इसके साथ ही बजरंग दल ने भी उनकी इसी तस्वीर को लेकर अप्पति भी जाहिर की। साथ ही बजरंग दल ने परिसर के बाहर गैर हिन्दुओं के मंदिर में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाते हुए पोस्टर चस्पा कर दिया।

गौरतलब है कि  सहारनपुर लोकसभा सीट पर पहले चरण के तहत 19 अप्रैल को मतदान होना है. इस सीट पर सपा और कांग्रेस के संयुक्त प्रत्याशी इमरान मसूद हैं।

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल तस्वीर हालिया दिनों की नहीं बल्कि दिसंबर, 2023 के दौरान की है। जब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय राय देवबंद गए थे।