Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: पश्चिम बंगाल में एक साल पहले उपद्रवियों द्वारा पुलिस की पिटाई के वीडियो को हालिया दिनों में किया गया वायरल, पढ़ें पूरे सच

0 405
फैक्ट चेक: पश्चिम बंगाल में एक साल पहले उपद्रवियों द्वारा पुलिस की पिटाई के वीडियो को हालिया दिनों में किया गया वायरल, पढ़ें पूरे सच

 

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में दो युवकों को कुछ पुलिस कर्मियों पर बेरहमी से लाठियां बरसाते हुए देखा जा सकता है। इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है वायरल वीडियो पश्चिम बंगाल में हुई हालिया घटना का है, जहां कुछ समुदाय विशेष के लोग पुलिस पर इस तरह बेरहमी से लाठियां बरसा रहे हैं। वीडियो के माध्यम से कहा जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में एक समुदाय विशेष की अराजकता इतनी बढ़ गयी है कि पुलिस को इस तरह पीटा जा रहा है, वहीं यह भी कहा जा रहा है कि जब एक राज्य में पुलिस का यह हाल है तो सोचने वाली बात ये हैं कि हिन्दू समुदाय का क्या हाल होगा।

फेसबुक पर वायरल वीडियो शेयर कर हिंदी भाषा में लिखा गया है कि, ” पश्चिम बंगाल में पुलिस बल की यह हालत है, मानों मुगल राज कायम हो गया हो।  पश्चिम बंगाल में हिंदुओं की स्थिति की कल्पना करें

फेसबुक के वायरल पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

 

फैक्ट चेक:

न्यूज़मोबाइल की पड़ताल में हमने जाना कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं बल्कि साल 2023 के दौरान का है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को देखने पर हमें इसके पुराने होने की आशंका हुई। जिसके बाद हमने अपनी पड़ताल आरम्भ की इस दौरान हमने वायरल वीडियो को कुछ कीफ्रेम्स में तोड़ा और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें वायरल वीडियो sanmarg.in नामक वेबसाइट पर अप्रैल 26, 2023 को छपे एक लेख में वायरल वीडियो से संबंधित जानकारी मिली।  लेख के मुताबिक वायरल वीडियो वाली घटना पश्चिम बंगाल की उत्तरी दिनाजपुर की है। जहां हुड़दंगियों ने पुलिस की पिटाई की थी।

उपरोक्त मिली जानकारी की पुष्टि के लिए हमने गूगल पर बारीकी से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें आज तक की वेबसाइट पर भी वायरल वीडियो  अप्रैल 26, 2023 को अपलोड किया गया था। वीडियो में दी गयी जानकारी के मुताबिक यह वीडियो TMC नेता कुणाल घोष द्वारा ही जारी किया गया था। एंकर द्वारा दी गयी जानकारी के मुताबिक यह वीडियो पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर का है। जहां हुड़दंगियों ने पुलिस की पिटाई की। यह घटना तब हुई जब उत्तरी दिनाजपुर में एक दलित युवती के साथ दरिंदगी और हत्या की अफवाह फैली थी।

 

पड़ताल के दौरान उपरोक्त मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल वीडियो हालिया दिनों का नहीं बल्कि साल 2023 के दौरान का है। लेकिन उक्त वीडियो को हालिया दिनों में सोशल मीडिया पर शेयर कर वर्तमान की घटना का बताया जा रहा है।