Hindi Newsportal

फैक्ट चेक: तमिलनाडु की पुरानी मजार के वीडियो को भ्रामक दावे के साथ किया जा रहा है वायरल, पढ़ें पूरा सच

0 671

फैक्ट चेक: तमिलनाडु की पुरानी मजार के वीडियो को भ्रामक दावे के साथ किया जा रहा है वायरल, पढ़ें पूरा सच

सोशल मीडिया पर एक एक इमारत वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। ईमारत की दीवालों पर हरा रंग पुता हुआ हैं और कहीं कहीं उर्दू शब्दों से भी कुछ लिखा हुआ देखा जा सकता है। इसी वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर कर दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो तमिलनाडु के तेनकासी में स्थित प्राचीन हिंदू मंदिर का है, जिसे हाल ही में सरकार की मदद से मस्जिद के रूप में परिवर्तित कर दिया गया।

फेसबुक पर फेसबुक पर यह वीडियो शेयर कर कैप्शन में लिखा गया है कि “तमिलनाडु के तेनकासी में प्राचीन हिंदू मंदिर को हाल ही में सरकार की मदद से मस्जिद के रूप में परिवर्तित कर दिया गया है”

 

 

फेसबुक पोस्ट का लिंक यहाँ देखें।

फैक्ट चेक–

 

फेसबुक पर वायरल हो रहे वीडियो की सच्चाई जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल की। इस दौरान हमने सबसे पहले वायरल वीडियो को कुछ की फ्रेंड्स में बदला और फिर गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च टूल व कुछ कीवर्ड्स के माध्यम से खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें ट्विटर पर वायरल वीडियो को लेकर तमिलनाडु सरकार का एक ट्वीट मिला, जहां वायरल वीडियो के साथ शेयर किये जा रहे दावे को गलत बताया साथ ही बताया कि वायरल वीडियो असल में पोट्टलपुदुर मोहैदीन अंडवर दरगाह का है, जो तिरुनेलवेली के तेनकासी में स्थित है।

उपरोक्त मिली जानकारी के आधार पर हमने गूगल पर अब पोट्टलपुदुर मोहैदीन अंडवर दरगाह का वीडियो खोजना शुरू किया। खोज के दौरान हमें वायरल वीडियो वाले दृश्य JAF Views नामक यूट्यूब चैनल पर अगस्त 28, 2023 को अपलोड किये गए वीडियो में मिले। यहाँ कैप्शन में बताया गया है कि यह वीडियो  पोट्टलपुदुर मोहैदीन अंडवर दरगाह का है।

 

 

पड़ताल के दौरान मिले तथ्यों से हमने जाना कि वायरल वीडियो मंदिर का नहीं बल्कि तिरुनेलवेली के तेनकासी में स्थित पोट्टलपुदुर मोहैदीन अंडवर दरगाह का है।