Hindi Newsportal

गैस चैंबर जैसे हालातों से जूझ रहे दिल्लीवासी, ‘गंभीर’ श्रेणी में है वायु गुणवत्ता

फाइल इमेज
0 903
गैस चैंबर जैसे हालातों से जूझ रहे दिल्लीवासी, ‘गंभीर’ श्रेणी में है वायु गुणवत्ता

 

देश की राजधानी दिल्ली में लोग इन दिनों प्रदूषण से जूझ रह रहे हैं। दिवाली के बाद से ही राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर फिर से बढ़ने लगा था। लेकिन पिछले दिनों दिल्ली में हुई बरसात से लोगों को प्रदूषण से कुछ राहत मिली थी। वहीं अब एक बार फिर दिल्ली में हवाएं जहरीली न होने लगी हैं। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) ‘गंभीर’ श्रेणी में है।  दिल्ली के साथ-साथ एनसीआर के भी कई इलाकों में हवा की गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ श्रेणी में शामिल हो गई है।  

 

 

बता दें कि, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में रविवार को सुबह वायु गुणवत्ता का स्तर 480 के पार चला गया है। आनंद विहार में एक्यूआई 470, आरके पुरम में 450, पंजाबी बाग में 430 और आईटीओ में 410 रहा। मौसम विभाग के अनुसार, आगामी कुछ दिनों में दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के साथ साथ कोहरा भी छाने लगेगा।

वहीं दिल्ली के प्रदूषण में 13 फीसदी परिवहन और 42.6 फीसदी अन्य स्रोतों की हिस्सेदारी थी।  दिल्ली सरकार ने राजधानी में GRAP-3 प्रतिबंध जारी रखने का फैसला किया है. गौरतलब है कि शून्य से 50 के बीच एक्यूआई ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’, 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है.